April 21, 2021
Pradesh News24x7
  • Home
  • अभी-अभी
  • शिफन कोर्ट से हटाये गये तीन मजदूर हिरासत में लिए, मजदूरों ने शहीद स्थल पर धरना देकर विरोध जताया।
अभी-अभी उत्तराखंड देहरादून सामान्य

शिफन कोर्ट से हटाये गये तीन मजदूर हिरासत में लिए, मजदूरों ने शहीद स्थल पर धरना देकर विरोध जताया।

कपिल मलिक

मसूरी : शिफन कोर्ट से पुरूकुल रोपवे के तहत हटाये गये अवैध कब्जाधारियों ने दूसरे दिन भी शिफन कोर्ट में कब्जाधारी पहुंच गये, जिस पर पुलिस ने उन्हें वहां से खदेड़ा व तीन मजदूरों को हिरासत में लेकर 151 के तहत कार्रवाई की। वहीं तीन मजदूरों को हिरासत में लेने के विरोध में शहीद स्थल पर अन्य मजदूरों ने धरना प्रदर्शन किया।

शिफन कोर्ट से पुरूकुल रोपवे के लिए हटाये गये श्रमिकों ने एक बार फिर शिफन कोर्ट में रोपवे की कार्यदायी संस्था के भूमि पर फेनेंसिंग करने का विरोध किया व धरने पर बैठ गये जिस पर पुलिस ने उन्हें वहां से हटा दिया लेकिन दूसरे दिन पुनः मजदूर परिवार सहित शिफन कोर्ट पहुंच गये जिस पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए तीन मजदूरों को हिरासत में लिया व बाकी मजदूरों व उनके परिवारों को खदेड़ दिया। जब अन्य मजदूरों को पता चला तो उन्होंने मजदूरों के खिलाफ की जा रही कार्रवाई का विरोध करने के लिए शहीद स्थल पर पुलिस व प्रशासन के खिलाफ धरना देकर प्रदर्शन किया। उनका कहना है कि जब तक उन्हें विस्थापित नहीं किया गया तब तक वह रोपवे का कार्य नही होने देंगे। पुलिस ने हिरासत में लिए गये तीन मजदूरों संपत लाल पुत्र ज्ञाना लाल, मदन भटट पुत्र मुकंद राम भटट व बृजमोहन पुत्र बिंदी लाल हाल निवासी लाइब्रेरी बस अडडा हवाघर है जिनके खिला्फ शांति भंग करने पर 151 के तहत मामला दर्ज किया गया व उसके बाद उन्हें निजी मुचलके पर रिहा कर दिया गया व चेतावनी दी कि अगर फिर से शांति भंग करने का प्रयास किया तो उचित कार्रवाई की जायेगी। वहीं प्रदर्शन कर रहे शिफन कोर्ट से बेघर हुए मजदूरों ने विधायक व पालिकाध्यक्ष पर भी जमकर आरोप लगाये। धरने पर मजदूर संघ के महामंत्री गंभीर सिंह पंवार, पूर्व अध्यक्ष देवी गोदियाल, केदार सिंह चैहान, विनोद लाल, रतन लाल, सहित पीड़ित मजदूरों सहित उनके परिजन बच्चों महिलाओं के साथ बैठ गये व जमकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। वहीं निर्णय लिया कि जब तक उन्हें विस्थापित नहीं किया गया तब तक धरना दिया जाता रहेगा। घटना के बारे में जानकारी देते हुए सीओ नरेंद्र पंत ने बताया कि रोपवे कार्य का विरोध कर रहे तीन मजदूरों का 151 के तहत चालान किया गया है तथा चेतावनी दी गई कि आगे शांति भंग की तो कार्रवाई की जायेगी।

हिरासत में लिए गये तीन मजदूरों के समर्थन में मजदूर संघ के नेतृत्व में शहीद स्थल पर धरना प्रदर्शन कर रहे मजदूरों के पक्ष में मसूरी दौरे पर आये कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह दल बल के साथ शहीद स्थल पर मजदूरों के साथ धरने पर बैठ गये व मजदूरों की समस्या को सुना व कहा कि वह मजदूरों का समर्थन करते हैं तथा जब तक उन्हें विस्थापित नहीं किया जाता वह समर्थन करते रहेंगे उन्होंने मजदूरों की लड़ाई लगने का आश्वासन भी दिया।

Related posts

कांग्रेस जिला प्रभारी पंहुचे यमुना घाटी हुआ जोरदार स्वागत।

PradeshNews24x7.com

कैन्डल मार्च निकालकर शहीदों को दी श्रंद्वाजली

pradeshnews24x7

इनरव्हील ने कराया तीन लड़कियों की शादी का सामान उपलब्घ।

PradeshNews24x7.com