April 18, 2021
Pradesh News24x7
  • Home
  • अभी-अभी
  • जम्मू-कश्मीर के निर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों ने उत्तराखंड के पंचायती राज की कार्यप्रणाली को समझा।
अभी-अभी उत्तराखंड देहरादून राजनीति

जम्मू-कश्मीर के निर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों ने उत्तराखंड के पंचायती राज की कार्यप्रणाली को समझा।

कपिल मलिक

मसूरी : जम्मू कश्मीर में हाल ही में हुए पंचायत चुनाव में निर्वाचित जनप्रतिनिधयों का एक दल मसूरी पहुंचा व यहां के प्राकृतिक सौदर्य का आनंद लिया। मालरोड पर घूमते हुए दल के सदस्यों ने बताया कि जम्मू कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश में पंचायतों को मजबूत करने के लिए निर्वाचित जनप्रतिनिधियों को उत्तराखंड की पंचायती राज व्यवस्था से रूबरू करवाने व इस व्यवस्था को लागू करने का प्रशिक्षण दिया गया।
इस संबंध में जानकारी देते हुए जम्मू कश्मीर से जनप्रतिनिधियों के साथ आये कश्मीर क्षेत्र से आये खंड विकास अधिकारी मंजूर अहमद डार ने बताया कि जम्मू कश्मीर में पहलीबार पंचायत चुनाव हुए जिसमें जीते सरपंच जिन्हें यहां प्रधान कहते हैं उनका एक बीस सदस्यीय दल जिसमें छह महिलाएं है सरकार के निर्देश पर उत्तराखंड की पंचायती राज व्यवस्था को देखने व सीखने आये हैं ताकि वहंा पर जाकर इस व्यवस्था को लागू किया जा सके व वहां के ग्रामीणों को इसका लाभ मिल सके। उन्होंने बताया कि वहां भी थी्र टायर व्वस्था लागू होने जा रही है जिसको समझने के लिए उत्तराखंड भेजा गया है। उन्होंने बताया कि वह पांच दिनों से यहां के गांवों में जाकर वहां की व्यवस्था को देख समझ रहे हैं वहीं उत्तराखंड सरकार की ओर से पंचायती राज का प्रशिक्षण भी दिया गया। उन्हें इस बात की खुशी है कि उन्होंने यहां की पंचायती राज व्यवस्था को समझा कि किस तरह पंचायतें अपने आर्थिक संसाधन जुटा कर अपने क्षेत्र का विकास करने के साथ ही ग्रामीणों को इसका लाभ पहुंचा सके। उन्होंने उत्ताखंड की संस्कृति को देखा व कहा कि मेरे पास शब्द नहीं है, यहां की संस्कृति ने मनमोह लिया। इस दौरान जम्मू क्षेत्र से आये खंड विकास अधिकारी कुलदी शर्मा ने कहा कि यहां व जम्मू कश्मीर की भौगोलिक स्थित एक जैसी है वहीं यहां की पंचायते सक्षम हैं इसे देखते हुए जम्मू कश्मीर की सरकार ने निर्वाचित जनप्रतिनिधियों को यहां भेजा है जिसके तहत गांवों में जाकर पंचायती राज व्यवस्था को देखा प्रधानों से बातचीत की। उन्होंने कहा कि यहां की पंचायते अपने आर्थिक स्रोत पैदा करती है जो कि वहां पर नही है वहां पर जो सरकार से आर्थिक सहायता मिलती है उसी से पंचायतें चलती हैं, अब यहां देखा और इसी तरह वहां पर भी लागू किया जायेगा। तभी ग्रामीण क्षेत्रों के पिछड़े पन को दूर किया जा सकेगा।
जम्मू क्षेत्र से निर्वाचित हुई संगीता शर्मा ने कहा कि हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विशेष आभार व्यक्त करते हैं कि उनके निर्देश पर यहां भेजा गया और यहां देख कर हमें बहुत अच्छा लगा। यहां जो मान सम्मान मिला, जो आदर सत्कार किया उसकी कल्पना भी नहीं कर सकते थे और यहां आकर जो ज्ञान अर्जन किया व सीखा उससे सभी जनप्रतिनिधि बेहद उत्साहित है। यहां की पंचायत व्यवस्था के साथ ही यहां पर जो कार्य किया जा रहा है, जिस तरह गोबर गैस से गैस बनायी जा रही है प्लास्टिक का किस तरह उपयोग किया जा रहा है देखकर सीखने को मिला व उसे अपने राज्य में लागू करेंगे। 

Related posts

इस बार का सीजन भगवान भरोसे, चुनाव के चलते नहीं सुधर रही व्यवस्थाऐं।

pradeshnews24x7

यमुना पेयजल योजना में आ रही समस्याओं के समाधान को विधायक ने बैठक ली।

PradeshNews24x7.com

मसूरी देहरादून मार्ग पहाडी दरकने से बंद एक घंटे की मशक्कत के बाद मार्ग खोला गया।

PradeshNews24x7.com