April 19, 2021
Pradesh News24x7
  • Home
  • अभी-अभी
  • उत्तरकाशी में विधानसभा चुनाव की तैयारी की हलचल नेताओं ने ठोकी ताल।
अभी-अभी उत्तरकाशी उत्तराखंड राजनीति

उत्तरकाशी में विधानसभा चुनाव की तैयारी की हलचल नेताओं ने ठोकी ताल।

अरविन्द थपलियाल

उत्तरकाशी : जनपद में उत्तराखंड में होने वाले 2022 के विधानसभा चुनाव की तैयारी तेज हो गयी है तो नेताओं ने अपने अपने किलों को मजबूती के जुगत में जुट गये हैं। जनपद में सबसे बड़ी हलचल यमुनोत्री विधानसभा में देखी जा रही है जहां कही दिगज अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं। बतादें कि यमुनोत्री विधानसभा से जिला पंचायत अध्यक्ष दीपक बिजल्वाण ने भी चुनाव लड़ने का पूर्णरूप से मन बना लिया है वह चिन्यालीशौड क्षेत्र में डेरा डालकर बैठ गये हैं वहीं बिजल्वाण दसगी हातड़ भंडारसीयू दीचली गमरी क्षेत्र का लगातार भ्रमण कर लोगों से मुलाकात कर आने वाले विधानसभा चुनाव के लिये नब्ज टटोलने का काम कर रहे हैं। दुसरी ओर राष्ट्रीय पार्टीयों के नेता भी लगातार अपना चुनावी ऐजेन्डा लेकर काम कर रहे हैं हांलाकि उत्तराखंड की बड़ी पार्टी भाजपा के अंदर अब टिकट मांगने वालों की संख्या में ईजाफा हो गया है इसकी स्पष्ट तस्वीर तब सामने आयी जब भाजपा प्रदेश अध्यक्ष कौशिक जनपद भ्रमण पर थे तो भाजपा के अंदर की गुटबाजी खुलकर सामने आयी जब एक तरफ भाजपा विधायक केदार रावत के समर्थक नारेबाजी कर रहे थे दुसरी और प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर चौहान के समर्थक ओर पूर्व राज्य मंत्री जगवीर भंडारी के समर्थक भंडारी का समर्थन कर रहे थे तो यमुना घाटी से भाजपा की स्थिति स्पष्ट नजर आ रही थी तो वहीं दुसरी ओर गंगा घाटी से लक्ष्मण भंडारी भी पिछले चुनाव से टिकट की मांग कर रहे हैं और पार्टी में भाजपा नेत्रीयां भी अपनी जमीन तलाशने में लगी हुई हैं वह चाहे विमला नौटियाल हो चाहे जशोदा राणा अब ऐसे में भाजपा के सामने यह स्थिति एक बड़ा संकट पैदा कर सकती है। अब हम जब कांग्रेस की बात करें तो संजय डोभाल भी लगातार जन संपर्क पर हैं हांलाकि कांग्रेस से ऐसा कोई दुसरा चेहरा सामने तो आया नहीं जो कांग्रेस से चुनाव लड़ने की बात करता हो लेकिन डोभाल का चुनाव लड़ना तय है तो यह देखना पडे़गा कि चुनावी समीकरण अंत तक स्थितियों को कहां ले जातें हैं।


अब दुसरी ओर देखें तो गंगोत्री में भी स्थिति यही है और पुरोला विधानसभा में भी यही है जहां सबसे ज्यादा दावेदार भाजपा के पास हैं अब यह देखना होगा कि पार्टी नेतृत्व किस पर भरोसा करता है यह देखना जरूर होगा। लेकिन जनपद की यमुनोत्री विधानसभा सबसे बड़ी हाट सीट बन सकती है दुसरी ओर धनोल्टी विधायक प्रितम पंवार की खबरे भी सुर्खीयों में हैं तो ऐसे में अंदाजा लगाना अभी कठीन है कि स्थिति क्या रहेगी लेकिन राजनैतिक जानकार बतातें हैं कि आज का जागरूक मतदाता आज जिसे भी चुनेगा वह नेता के व्यवहार और काम के तहत रिजल्ट देगा अब यह देखना होगा की कौन नेता भरोसेमंद है यह सब वक्त की गर्त में है।

Related posts

छावनी सीईओ ने खलगी रोड चैडीकरण व धोबीघाट में नाले का वर्कआर्डर जार किया।

PradeshNews24x7.com

सीएम त्रिवेन्द्र ने नैनीझील जल गुणवत्ता आंकलन प्रणाली का किया लोकापर्ण।

PradeshNews24x7.com

लोकसभा चुनाव के मध्येनजर सी ओ ने ली ग्रामीणों की समन्वय बैठक

pradeshnews24x7