Home अभी-अभी जौनपुर में मरोज उत्सव से गांव-गांव में लोक संस्कृति की बयार।

जौनपुर में मरोज उत्सव से गांव-गांव में लोक संस्कृति की बयार।

100
0
SHARE

सुनील सजवाण

टिहरी : जौनपुर विकासखड में इन दिनों मरोज पर्व की धूम मची है। जिसके तहत गांव गांव में मेहमानों का सत्कार किया जा रहा है व रात को गांव के चैक व घरों में माघ के गीत के साथ गांव के चैक में तांदी रासो के साथ लोक नृत्य की बयार बह रही है।

मरोज पर्व के तहत पूरे क्षेत्र में उल्लास का माहौल है। गांव गांव में इस पर्व को लेकर खासा उत्साह देखा जा रहा है व घर घर में शाम को पूरे गांव की भयात सामुहिक रूप से गांव के लोगों की टोलिया जाती हैं व हर घर में पारंपरिक लोकनृत्य व नाटी आयोजित की जाती है वहीं सभी को मांस व घर की बनी शराब पाखली, घणी सूर आदि परोसी जाती है। जो लोग शराब व मांस नहीं खाते उनके लिए गुड़ की चाय व अल्पाहार परोसा जाता है। हर घर में कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं व जौनपुरी छोड़े, जंगु, बाजु एवं माघ के गीतों के साथ पौराणिक सांस्कृतिक कार्यक्रम का ग्रामीण जमकर आनंद लेते हैं। यहां तक बुजुर्ग व महिलाएं भी नृत्य में शामिल होकर पर्व का भरपूर आनंद लेती हैं। माघ माह में जब अन्य क्षेत्रों में मांस मदिरा का सेवन नहीं करता वहीं अपनी विशिष्ठ अनोखी संस्कृति के तहत पूरे माघ मांह में मांस मदिरा का सेवन किया जाता है व मेहमानों का सत्कार किया जाता है। गैड गांव के ग्रामीणों का कहना है कि जौनपुर क्षेत्र के गैड गांव में हर त्यौहार व शादी-विवाह को बड़े धूम-धाम से मनाते हैं और यहीं हमारी संस्कृति पहचान है।