April 18, 2021
Pradesh News24x7
  • Home
  • अभी-अभी
  • किसानों के शांतिपूर्ण आंदोलन को तोड़ने की भाजपा ने की साजिश – नवीन पिरसाली
अभी-अभी उत्तराखंड देहरादून राजनीति

किसानों के शांतिपूर्ण आंदोलन को तोड़ने की भाजपा ने की साजिश – नवीन पिरसाली

ब्यूरो रिपोर्ट

मसूरी : आम आदमी पार्टी ने गणतंत्र दिवस पर किसान आंदोलन के दौरान लाल किले पर हुई घटना को शर्मनाक बताया व कहा कि इससे पूरे देश में आक्रोश है। आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता नवीन पिरसाली ने कहा कि किसानों के शांतिपूर्ण आंदोलन को तोड़ने की भाजपा ने साजिश की। जिसके प्रमाण सामने हैं।

आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता नवीन पिरसाली ने कहा कि पिछले दो माह से किसान केंद्र सरकार द्वारा लागू तीनों काले कानून के विरोध में आंदोलन चला रहे हैं वहीं गणतंत्र दिवस पर किसानों ने ट्रेक्टर रैली निकालने की अनुमति ली, लेकिन लाल किले पर एक घटना घटी जिससे पूरा देश शर्मसार हो गया। उन्होंने कहा कि जब गणतंत्र दिवस पर चाक चैबंद व्यवस्था रहती है ऐसे में लाल किले पर कुछ लोग कैसे गये व वहां पर एक ध्वज फहराया। जबकि पुलिस बल पीछे हट गया, इस घटना से पूरा देश व किसान आहत हुआ। लेकिन जब जानकारी सामने आई तो पता चला कि यह केंद्र सरकार का किसान आंदोलन को समाप्त करने की साजिश थी क्यों कि जो फोटो अब सामने आ रही है उससे साफ है जिसमें एक व्यक्ति जो लाल किले पर एक ध्वज फहरा रहा है वह भाजपा का है उसकी फोटो प्रधानमंत्री के साथ ही सांसद सनी देओल, हेमा मालिनी, अमित शाह आदि के साथ हैं। उन्होंने कहा कि भारत का किसान देश प्रेमी है वह कभी भी तिरंगे का अपमान नहीं कर सकता। भारत के किसान ने देश में संकट के समय पूरा साथ दिया वह केवल किसान है उसका कोई धर्म नहीं है। गुरूगोविंद सिहं की संतान व लाला लाजपत राय के वंशज पंजाब के अन्न दाताओं को खालिस्तानी कहा गया जो कि अन्नदाता का अपमान है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की आंदोलन दबाने की साजिश कामयाब नहीं होने दी जायेगी व किसान आंदोलन तब तक समाप्त नहीं होगा जब तक कि तीनों कानून वापस नहीं हो जाते। आप नेता नवीन पिरशाली ने कहाकि बीजेपी के लोग किसानों को बदनाम करने की साजिश कर रहे हैं। दिल्ली में लालकिला हो या,गाजीपुर बॉर्डर हो हर जगह किसानों को बदनाम करने के लिए उनके बीच शामिल होकर ,इस आंदोलन को कुचलने के साथ साथ किसानों को बदनाम करने के प्रयासों में लगातार लगे हैं। उन्होंने तस्वीरें दिखाई व कहा कि लाल किला पर हमला हो या गाजीपुर में उग्र प्रदर्शन सबमें ये बीजेपी के लोग दिखाई दे रहे है। किसानों को बदनाम करने का षड्यंत्र रच रहे हैं। बीजेपी ने गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों के आंदोलन को कुचलने के लिए बिजली पानी तक काट दिया था ताकि किसान परेशान हो जाएं लेकिन अरविंद केजरीवाल ने किसानों को परेशान नहीं होने दिया उनको पानी की व्यवस्था करवाई।

आप नेता ने कहा,बीजेपी हमेशा से किसान विरोधी रही है । ये किसानों को महज अपने वोट बैंक के लिए यूज करती है इनको किसानों के हित से कोई सरोकार नहीं जबकि आम आदमी पार्टी शुरू से किसानों के हित की बात करती रही है। चाहे आंदोलन के दौरान दिल्ली में उनको तमाम व्यवस्थाएं करने से लेकर केंद्र को किसानों को जेल बनाने के लिए स्टेडियम की मांग को दरकिनार किया। आप के मुख्यमंत्री केजरीवाल,उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया समेत दिल्ली के कई आप नेता लगातार आंदोलन के दौरान किसानों से मिलने बॉर्डर पर धरनास्थल पहुंचे। जबकि बीजेपी का कोई नेता, प्रधानमंत्री, मंत्री किसानों की सुध लेने नहीं पहुंचा। इस दौरान आप नेता ने आंदोलन में शहीद किसानों को श्रद्धांजलि देते हुए उनके प्रयासों को पूरा करने की बात कही।

इस मौके पर सुनील पंवार, हरपाल खत्री, अंकुर सैनी, सुमित दयाल, दीपेंद्र भंडारी, रंजीत गुसांई, दुर्गा प्रसाद, व बबीता बेलवाल आदि थे।

Related posts

सीएम त्रिवेन्द्र ने जिला पंचायत अध्यक्षों से की वार्ता, लिया फीडबैक।

PradeshNews24x7.com

एक शिक्षक ऐसा भी!

pradeshnews24x7

Oak Grove School holds capacity building workshop for the teachers

pradeshnews24x7