April 18, 2021
Pradesh News24x7
  • Home
  • अभी-अभी
  • शिक्षिकाओं की राह ताक रहा आदर्श बालिका इण्टर कालेज
अभी-अभी उत्तरकाशी उत्तराखंड शिक्षा/रोजगार

शिक्षिकाओं की राह ताक रहा आदर्श बालिका इण्टर कालेज

जय प्रकाश बहुगुणा

बड़कोट – जनपद उत्तरकाशी के बड़कोट नगर पालिका क्षेत्र में स्थित नौगांव विकास खण्ड का एक मात्र राजकीय आदर्श बालिका इंटर कालेज बड़कोट शिक्षिकाओं की कमी व अन्य मूल भूत सुविधाओं के अभाव में नाम के अनुरूप यहाँ पढ़ रही बालिकाओं के साथ आदर्श साबित नही हो पा रहा है।
यहाँ जिन बिषयों का आज के समय मे रोजगार के क्षेत्र में आवश्यक माना जाता है उनके अध्यापक ही नहीं है।और तो और विद्यालय भवन की स्थिति भी ऐसी है कि बरसात में जगह जगह से छत टपकने के कारण पठन पाठन में व्यवधान होता है।
नौगांव विकास खण्ड उत्तरकाशी जिले का सबसे बड़ा विकास खण्ड है। इस विकास खण्ड में राजकीय इण्टर कालेज तो कई है लेकिन छात्राओं की पढ़ाई की दृष्टि से बड़कोट में ही एकमात्र बालिका इण्टर कालेज है।जिसे राज्य सरकार ने 14 जनवरी सन 2015 में एक आदर्श बालिका इण्टर कालेज का दर्जा देकर बालिकाओं की शिक्षा के लिए उत्तम प्रयास किया था।लेकिन राज्य सरकार यह भूल गई कि किसी भी विद्यालय को नाम बदलकर या दर्जा देकर उत्कृष्ट विद्यालय नही बनाया जा सकता है।बल्कि विद्यालय में अध्यापको की नियुक्ति व मूलभूत सुविधाएं मुहैया करनी पड़ती है।राजकीय आदर्श बालिका इण्टर कालेज बड़कोट में न तो स्थाई प्रधानाचार्य ही है व नही विषयों के अध्यापक।लगभग साढ़े पांच सौ की छात्रा संख्या वाले नाम मात्र के इस आदर्श बालिका इण्टर कालेज में वर्तमान समय में महत्वपूर्ण विषयों के पांच पद रिक्त पड़े हैं।जिससे यहाँ पढ़ने वाली छात्राओं को काफी दिक्कतें आ रही है।एल टी संवर्ग में अंग्रेजी, विज्ञान, व एक पद सामान्य में रिक्त पड़े हैं।तो वही गृहविज्ञान व अंग्रेजी विषयो के प्रवक्ता के पद भी खाली होने से छात्राओं को दिक्कतें हो रही है।राजकीय आदर्श बालिका इण्टर कालेज के अभिभावक संघ के अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह रावत के अनुसार कई बार बिभाग के उच्चाधिकारियों को विद्यालय की समस्याओं व शिक्षिकाओं की नियुक्ति के लिए लिखा गया है लेकिन अभी तक न तो नियुक्ति हुई है और न अन्य समस्याओं का समाधान।आज एक प्रतिनिधिमंडल रावत के नेतृत्व में नौगांव में खण्ड शिक्षा अधिकारी को भी मिला जिसमें खण्ड शिक्षा अधिकारी ने अपना पल्ला झाड़ते हुए कहा कि सम्बन्धित मामले शिक्षा निदेशक के स्तर के है जिन्हें वे सिर्फ अग्रसारित ही कर सकते हैं।अभिभावक संघ के अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह रावत, सामाजिक कार्यकर्ता वसुदेव डिमरी ने कहा है कि यदि समय पर राजकीय आदर्श बालिका इण्टर कालेज की समस्याओं का समाधान कर अध्यापिकाओं की नियुक्ति नही की तो उनको आंदोलन करने के लिए बाध्य होना पड़ेगा।

अभिभावकों ने दी आंदोलन करने की चेतावनी

Related posts

पहाड़ों की रानी में मतदान कम होने से राजनैतिक दल चिंतित।

pradeshnews24x7

समझदारी की मिसाल बने तीन युवा, खुद को किया स्कूल में क्वारेंटाइन।

होटल एसोसिएशन की वार्षिक आम सभा में उपलब्धियां गिनाई गई वहीं समस्याओं पर भी की गई चर्चा।

pradeshnews24x7

Leave a Comment