April 20, 2021
Pradesh News24x7
  • Home
  • अभी-अभी
  • राज्य आंदोलन में दो सितंबर को मसूरी गोलीकांड के शहीदों को नम आंखो से श्रंद्धाजलि अर्पित की। सांस्कृतिक कार्यक्रम भी किए गये।
अभी-अभी उत्तराखंड देहरादून सामान्य

राज्य आंदोलन में दो सितंबर को मसूरी गोलीकांड के शहीदों को नम आंखो से श्रंद्धाजलि अर्पित की। सांस्कृतिक कार्यक्रम भी किए गये।

बिजेंद्र पुंडीर

मसूरी : उत्तराखंड राज्य आंदोलन में दो सितंबर को पुलिस गोलीकांड में शहीद हुए आंदोलन कारियों को शहीद स्थल पर उनकी प्रतिमाओं व चित्रों पर पुष्प अर्पित कर श्रंद्धाजलि दी गई। इस मौके पर संस्कृति विभाग की ओर से शहीदों की याद में सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए गये वही लोक गायक जीतेंद्र पंवार ने मसूरी के शहीदों पर गढ़वालीगीत सुनाया तो लोगों की आंखो से आंसू छलक पडें।

दो सितबंर 1994 को उत्तराखंड राज्य आंदोलन में पुलिस ने शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे निहत्थे आंदोलनकारियों को गोलियों से भून दिया था जिसमें छह आंदोलनकारी बलबीर नेगी, धनपत, राय सिंह बंगारी, हंसा धनाई, बेलमती चैहान, मदनमोहन ममगाई सहित पुलिस के सीओ उमाकांत त्रिपाठी शामिल थे। उनकी याद में हर वर्ष शहीद स्थल पर श्रद्धांजलि समारोह आयोजित किया जाता है। इस मौके पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भटट ने कहा कि राज्य के हित में सभी राजनैतिक दलों को एक साथ मिलकर कार्य करना चाहिए। क्यों कि सभी का लक्ष्य राज्य का विकास है। इस मौके पर प्रदेश के कबीना मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि राज्य निर्माण जिन उददेश्यों को लेकर किया गया था उन्हें साकार करने में प्रदेश सरकार पूरा प्रयास कर रही है। यही कारण है कि मुख्यमंत्री नहीं आ पाये वह इनवेस्टर मीट में सिंगापुर जा रखे हैं अगर राज्य में उद्योग  आयेंगे तो रोजगार के अवसर बढ़ेगे। इसमौके पर विधायक गणेश जोशी ने कहा कि उत्तराखंड राज्य आंदोलन मे कई लोगों ने शहादत दी थी।इस मौके पर पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने कहा कि जिन उददेश्यों को लेकर  राज्य बनाया गया उसमें कार्य नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि जो राज्य हित के कार्य है उनमें पूरा सहयोग वर्तमान सरकार को किया जायेगा। उन्होंने कहा कि वे खुद आंदोलनकारी थे। आज उन्हीं की बदौलत राज्य बना है इस लिए उनके सपनों को साकार करना सरकार का कार्य है।

शहीद स्थल पर राज्य आंदोलनकारियों के परिजनों ने बड़ी संख्या में आकर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। उस समय उनकी आंखों में आंसू थे। शहीद स्थल पर श्रद्धांजलि देने वालों में विधायक राजपुर खजानदास, रवीद्र्र जुगरान, प्रदीप कुकरेती, विवेकानंद खंडूरी, भाजपा मंडल अध्यक्ष मोहन पेटवाल, महामंत्री कुशाल राणा, कांगे्रस अध्यक्ष सतीश ढौडियाल, महिलामोर्चा अध्यक्ष सरोजनी कैंतुरा, महामंत्री अनीता पुंडीर, मीरा सकलानी, पूर्व विधायक जोत सिंह गुनसोला पूर्व पालिकाध्यक्ष मनमोहन सिंह मल्ल, ओपी उनियाल, रवि बंगारी सहित हजारों की संख्या में स्थानीय व राज्य के विभिन्न क्षेत्रों से आये लोग थे।

शहीद स्थल पर शहीद स्मारक समिति की ओर से सर्वधर्म सभा का आयोजन किया गया जिसमें मौलवी, पुरोहित, ग्रंथी व पादरी ने अपने धर्मों के अनुसार शांति पाठ किया व राज्य के शहीदों को याद किया। कार्यक्रम का संचालन भगवतीप्रसाद सकलानी ने किया। वहीं उत्तराखंड संस्कृति विभाग की ओर से सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी गई।

शहीद स्थल पर राज्य आंदोलनकारियों की स्मृति में रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें करीब 90 यूनिट रक्त एकत्र किया गया। यह कार्यक्रम मोहन सिहं पुंडीर, नरोत्तम सिंह व धर्मपाल सिंह पवार के संयोजन मे किया गया। 

Related posts

गैरसैण के विरोध में व्यापारियों का आंदोलन

pradeshnews24x7

6 हजार फलदार पौधों का रोपण किया।

PradeshNews24x7.com

आंदोलनकारियों ने मुख्यमंत्री को दिया ज्ञापन

pradeshnews24x7

Leave a Comment