April 19, 2021
Pradesh News24x7
  • Home
  • उत्तराखंड
  • बारों में शराब पीना हुआ महंगा, होटेलियर ने किया विरोध
उत्तराखंड देहरादून सामान्य

बारों में शराब पीना हुआ महंगा, होटेलियर ने किया विरोध

बिजेंद्र पुंडीर

मसूरी। उत्तराखंड सरकार द्वारा शराब के लाइसेंस का शुल्क बढ़ाने व अधिभार बढ़ाने का उत्तराखंड होटल एसोसिएशन ने कड़ा विरोध किया है। तथा कहा कि इससे जहां सरकार को राजस्व की हानि होगी वहीं पर्यटन व्यवसाय पर बुरा प्रभाव पडे़गा। इससे रोजगार भी प्रभावित होगा।

उत्तराखंड होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष संदीप साहनी ने कुलड़ी स्थित एक रेस्टोरेंट में आयोजित पत्रकार वार्ता में कहा कि हाल ही में उत्तराखंड सरकार ने जो शराब नीति घोषित की है उसका सीधा प्रभाव पर्यटन पर पडे़गा। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड की आर्थिकी पर्यटन पर आधारित है  और प्रदेश सरकार का मकसद प्रदेश को पर्यटन प्रदेश बनाना है। लेकिन ऐसे में यह कैसे संभव हो पायेगा। उन्होंने कहा कि उत्तराखं डमें सबसे अधिक रोजगार होटल उद्योग से दिया जा रहा है जिससे काफी हद तक पलायन भी रूका है लेकिन सरकार ने बार लाइसेंस को तीन लाख से बढ़ा कर पांच लाख कर दिया है वहीं अधिभार भी पांच से आठ प्रतिशत बढ़ा दिया है। इससे निश्चित ही पर्यटन को क्षति पहुंचेगी। इससे उत्तराखंड के रेस्टोरेंट व बार व्यवसाय प्रभावित होगा जिसके कारण पर्यटकों की संख्या में कमी आयेगी जिससे राजस्व घटेगा व सरकार सहित होटल व्यवसाय को नुकसान उठाना पडे़गा वहीं रोजगार के अवसर भी कम हो जायेंगे। वहीं सरकार ने जीएमवीएन तथा केएमवीएन को लाइसेंस में पचास प्रतिशत की छूट दी है। उन्होंने मांग की कि यह छूट होटल व्यवसायियों को भी मिलनी चाहिए। उत्तराखंड होटल एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष संदीप साहनी ने यह भी कहा कि इससे अवैध शराब, बाहरी राज्यों को आने वाली शराब का प्रचलन बढ़ेगा जिसका सीधा नुकसान राजस्व को होगा। उन्होंने कहा कि होटल उद्योग सरकार के लिए अंडा देने वाली मुर्गी है उसे एक बार में हलाल करने से प्रदेश का नुकसान होगा। साथ ही चेतावनी भी दी कि यदि सरकार ने अपना यह निर्णय नहीं बदला तो प्रदेश भर के होटल व रेस्टोरेंट व्यवसायियों को आंदोलन के लिए बाध्य होना पड़ेगा। उन्होंने यह भी कहाकि वे खुद अपने सदस्यों व पदाधिकारियों के साथ तीन बार आबकारी मंत्री से मिले लेकिन उन्होंने कुछ नहीं किया। जिससे पूरे प्रदेश में सरकार की इस नीति के खिलाफ आक्रोश बढ़ रहा है। इस मौके पर प्रदेश होटल एसोसिएशन के महासचिव दीपक गुप्ता, मसूरी होटल एसोसिएशन के महासचिव संजय अग्रवाल, शैलेंद्र कर्णवाल आदि मौजूद रहे।

 

Related posts

सफाई पखवाड़े के दौरान एनसीसी कैडेटों ने मंदिर व मोहल्लो में साफ सफाई कर लोगो को किया जागरूक

pradeshnews24x7

इस बार का सीजन भगवान भरोसे, चुनाव के चलते नहीं सुधर रही व्यवस्थाऐं।

pradeshnews24x7

मसूरी ट्रेडर्स एसोसिएशन ने एसडीएम को ज्ञापन देकर ई-डिस्ट्रिक्ट योजना शुरू करने की मांग की।

PradeshNews24x7.com

Leave a Comment