April 18, 2021
Pradesh News24x7
  • Home
  • अभी-अभी
  • देवीकोल में भद्रकाली का मेला पारंपरिक रीति रिवाज के साथ संप्पन।
अभी-अभी उत्तराखंड टिहरी देहरादून संस्कृति और साहित्य

देवीकोल में भद्रकाली का मेला पारंपरिक रीति रिवाज के साथ संप्पन।

बिजेंद्र पुंडीर

 मसूरी। मसूरी के निकटवर्ती जौनपुर विकासखंड के पटटी सिलवाड़ के देवीकोल में मां भद्रकाली देवी का मेला आयोजित किया गया जिसमे बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने मां भद्रकाली के दर्शन  किए व परिवार, फसलों व पशुधन की समृद्धि की कामना की।

पवित्र फुल्यात महीने के अंत में बच्चों के ठेस्या पूजन के बाद देवीकोल में मां भद्रकाली का मेला हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस मौके पर सिलवाड़ पटटी व आठज्यूला के दो दर्जन से अधिक गांव के लोगों ने मां भद्रकाली के मंदिर में जाकर दर्शन किए व विधिवत पूजा अर्चना कर परिवार की सुख समृद्धि के साथ ही फसलों एवं पशुधन की खुशहाली की कामना की। इससे पूर्व मंदिर में पारंपरिक वाद्ययंत्रों के बीच मुख्य पुजारी ने मां भद्रकाली भगवती की विधि विधान से पूजा की व हवन के बाद ढोल दमाउं व रणसिंघे की गर्जना के बीच कई लोगों पर देवी देवता अवतरित हो गये। व देवताओं ने जमकर नृत्य किया व देवताओं के शांत होने के  बाद श्रद्धालुओं ने मेले का आनंद लिया। इस मौके पर ग्रामीण प्रातः ही मेला स्थल पर पहुंचने शुरू हो गये थे। महिलाएं अपने पारंपरिक वेशभूषा में आयी थी व ढोल दमाउं की थाप पर जमकर तांदी नृत्य किया व सांस्कृतिक विरासत को जीवंत कर  दिया। वहीं मेले में खरीदारी की व अपने चिर परिचितों से मुलाकात की। मंदिर के पुजारी ब्रहमानंद बिजलवाण ने पूजा व हवन संपन्न कराया इस मौके पर समिति के निवर्तमान अध्यक्ष सूरत सिंह रावत, कोषाध्यक्ष नागेंद्र सिंह रावत, उपाध्यक्ष देशराज बिजलवाण, कन्हैया राणा, सुरेश रावत, सुनील रावत, रोशन रावत, बलबीर सिंह कैंतुरा आदि मौजूद रहे।

Related posts

समरस और समभाव का पर्व है होली – प्रदेश अध्यक्ष कौशिक

PradeshNews24x7.com

भगवान का नाम लेने से होता है दुखों का अंत -स्वाति जी

Pradesh News24x7

प्रदेश सरकार प्रवासियों को राज्य के विकास व रोजगार से जोड़ने के अवसर उपलब्ध करायेगी।

PradeshNews24x7.com

Leave a Comment