April 19, 2021
Pradesh News24x7
  • Home
  • अपराध
  • ओवाईओ लगा रही केंद्र सरकार को लाखो का चूना, आवासीय घरों बिना वेरिफिकेशन के रूकवा रहे लोगों को।
अपराध अभी-अभी उत्तराखंड देहरादून

ओवाईओ लगा रही केंद्र सरकार को लाखो का चूना, आवासीय घरों बिना वेरिफिकेशन के रूकवा रहे लोगों को।

बिजेंद्र पुंडीर

मसूरी : पहाड़ों की रानी मसूरी में ओवाईओ कंपनी प्राइवेट कमरे लेकर उनका व्यावसायिक उपयोग कर सरकार को मोटा चूना लगा रही है। ऐसा मामला जब सामने आया तो पता चला कि मसूरी के कई रिहायशी इलाकों में कमरे लेकर उनमें व्यावसायिक गतिविधियां चल रही हैं।

बालाहिसार निवासी एसके गोयल निवासी विस्टेरिया स्टेट ने कोतवाली में तहरीर दी है कि ओवाईओ मसूरी नगर में अवैध रूप से होम स्टे के नाम पर कमरों का संचालन कर रही है तथा प्रदेश सरकार सहित केंद्र सरकार को लाखों का चूना लगा रही है। कोतवाली में दी गई तहरीर में कहा गया कि ओवाईओ मसूरी क्षेत्र में होम स्टे के नाम पर कमरों का अवैध रूप से संचालन किया जा रहा है जबकि भवन स्वामी से कभी भी होम स्टे का पंचीकरण नहीं किया गया। भवन स्वामियों ने भी अपना पंजीयन होम स्टे में नहीं करा रखा है। मसूरी में ओवाईओ द्वारा घरेलू कमरों का व्यावसायिक उपयोग किया जा रहा है वहीं गाड़ी की पार्किंग सड़क पर करा कर उसका  भी व्यावसायिक उपयोग कर रही है। जिससे जाम लग रहा है, जबकि बिजली पानी व टैक्स का भुगतान घरेलूकिया जा रहा है। इस संबंध में जब शिकायतकर्ता ने कंपनी के कर्मचारियों से पूछा तो उनके द्वारा अभद्र व्यवहार किया गया और कहा गया कि वह हमारा कुछ नहीं बिगाड़ सकते जो हम चाहेंगे वहीं होगा। जिस कारण भवन स्वामी को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। शिकायत कर्ता एसके गोयल का कहना है कि इस संबंध में उन्होंने एसडीएम व जिला पर्यटन अधिकारी को भी सूचित किया है। इस संबध में कोतवाल भावना कैंथोला का कहना है कि कोतवाली मे तहरीर आई है जिसमें बताया गया कि ओवाईओ वाले आवासीय स्थानों पर कमरे लेकर उसका व्यावसायिक उपयोग कर रहे हैं वहीँ बताया कि ऐसा करना उचित नहीं है क्यो कि मसूरी वीवीआईपी सिटी है तथा यहां पर भारत सरकार के महत्वपूर्ण संस्थान एलबीएस अकादमी, आईटीबीपी, आईटीएम आदि हैं औैर जो लोग इन मकानों में रहने आ रहे हैं वह कौन हैं, उनका कोई वेरिफिकेशन नहीं कराया जाता न ही पुलिस को कोई सूचना दी जाती है जबकि मसूरी संवेदनशील स्थान है। इस मामले की जांच एलआईयू व पुलिस मिलकर कर रही है तथा जांच के बाद रिपोर्ट आगे भेजी जायेगी व उचित कार्रवाई की जायेगी। मालूम हो कि ओवाईओ ने मसूरी के कई स्थानों पर इस तरह आवासीय बस्ती में कमरे ले रखे हैं जहां उनका व्यावसायिक उपयोग हो रहा है जो लोग यहां आते हैं उनका कोई जानकारी नहीं होती कि कौन यहां आकर रहते हैं वहीं इनका व्यावसायिक उपयोग हो रहा है जिस पर कंपनी को कोई व्यावयायिक रिकार्ड नहीं है तथा जीएसटी भी अदा नहीं की जा रही है। ऐसे में संदिग्ध गतिविधियों को बढ़ावा मिल सकता है।

Related posts

मसूरी – खाई में गिरने से एक महिला की मौत, दो व्यक्ति गंभीर रूप से घायल।

PradeshNews24x7.com

पति के होम क्वारंटाइन होने की वजह से जिला अस्पताल में गर्भवती महिला की घंटों तक हुई फजीहत।

प्राथमिक विद्यालय के छात्रों ने इंग्लिश स्पीकिंग व डाउट क्लीयरिंग डे मनाया।

pradeshnews24x7

Leave a Comment