April 18, 2021
Pradesh News24x7
अभी-अभी उत्तराखंड देश देहरादून

ऐसे थे अटल बिहारी।

बिजेंद्र पुंडीर

मसूरी : अटल बिहारी बाजपेई के निधन पर केद्रीय तिब्बतन विद्यालय के शिक्षक ने उनको कविता के माध्यम से श्रद्धांजलि अर्पित की है।

बाजपेई थे अटल बिहारी,कहते हैं सब ही नर नारी।

मां कृष्णा थी पिता कृष्ण थे, दादा श्याम थे और स्वयं थे बिहारी।

ऐसे थे वे अटल बिहारी।

विपदा देश पर पड़ी है भारी, विदा हो गये अटल बिहारी,

दुनिया को दे गये हैं गम, दिल है भारी,आंखे नम

दुनिया की है पर लाचारी, अब न आयेंगे अटल बिहारी।

मुख मंडल पर रहती थी मुस्कान,थी व्यंगकला उनकी पहचान,

भावनाओं का ज्वार उमड़ती भारी, अमर रहेंगे अटल बिहारी।

संयुक्त राष्ट्र में बोली हिंदी, भारत मां के माथे की बिंदी,

जग भर में तब गूंजी वाणी, अटल बिहारी, अटल बिहारी।

संयुक्त राष्ट्र मेंज ब पहुंचे आप, पाकिस्तान रह गया अवाक,

भाषण देने जब खडे़ हुए, पाकिस्तान के पैर हिले।

कहा, कहां से आई ये बीमारी, जिसका नाम है अटल बिहारी।

ग्राम सड़क योजना जो लाये, सड़कों को गांवों तक पहुचाये,

दूरदृष्टा थे सोच भी न्यारी, जन नायक थे अटल बिहारी।

विश्व शांति का था अरमान, तभी बस से गये थे पाकिस्तान,

न कोई शत्रु, सबसे थी यारी, महा मानव थे  अटल बिहारी।

भारत को बलवंत बनाया,  पोखरन मे परमाणु परीक्षण कराया,

अटल- कलाम की अदभुत थी यारी, परस्पर विश्वास था सबपर भारी।

प्रतिबंधों की, न की परवाह, दुनिया हुई नतमस्तक सारी,

राष्ट्र भक्त थे अटल बिहारी।

सांसदों को गरिमा का पाठ था पढ़ाया,

लोकतंत्र का सम्मान करना उनको सिखाया,

सिखाया उनको कि बनें सदाचारी, संसद की आत्मा थे अटल बिहारी,

जिनका नाम था अटल, जिनके काम थे अटल,

विश्वास था अटल, जो रहे ब्रहमचारी।

सद्गुणों की खान थे अटल बिहारी।

नम हैं आंखे, गम है भारी, कूच कर गये अटल बिहारी,

प्रबल भाव, ओजस्वी वाणी, राष्ट्र पुरूष थे अटल बिहारी।

बाजपेई थे अटल अनंत, एक युगका आज हुआ है अंत,

आसमान में जबतक चांद, राष्ट्र रखेगा उनको याद।

पुनः मिले उनको मानव जन्म, भारत हो कर्मभूमि उनकी,

देशभक्ति हो उनका धर्म।

गमगीन हुआ है आज अपना वतन, खोया है हमने एक महान रत्न,

जन सेवा जिनकी थी चाहत, देशभक्ति की थी  मन में लगन,

बाजपेई जी तुम्हें नमन, राष्ट्र पुरूष जी तुम्हें नमन।

Related posts

आईडीएच मजदूर निर्माणाधीन भवन पात्र को देन व कूड़ा डंपिंग हटाने की मांग।

pradeshnews24x7

गौ क्रांति मंच ने गौमाता को राष्ट्रमाता घोषित करने की मांग

pradeshnews24x7

भूमि उपलब्ध न कराने पर बेरोजगार विनोद रावत 18 जुलाई से सपरिवार आमरण अनशन करेंगे।

pradeshnews24x7

Leave a Comment