Home अभी-अभी Exclusive – बैक डोर से थी एंट्री की कोशिश मगर विरोध...

Exclusive – बैक डोर से थी एंट्री की कोशिश मगर विरोध पड़ा भारी

227
0
SHARE

जय प्रकाश बहुगुणा

उत्तरकाशी : विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा से बगावत करने वाले कुछ लोग भाजपा मे वापसी के लिए काफी समय तक हाथ-पैर मारते रहे और बैक डोर से एंट्री हो जाए इसकी जुगत मे थे लेकिन पार्टी के अंदर बागियों की एंट्री तो दूर उनके नाम से भी परहेज करने वालो के विरोध से उन लोगों को झटका लगा है जो बैक डोर से एंट्री कराने के फिराक में थे। चुनाव के दौरान भाजपा से बागी होकर बागी उमीदवार के साथ हो लिए दर्जनों लोगों मे से कुछ ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि चुनाव के दौरान पार्टी से अलग होकर उनसे बड़ी गलती हुई और उसका उन्हें अब एहसास हो रहा है। इधर राजनीतिक सूत्र यह भी बताते हैं कि तब बागी हुए लोगों मे एक शख्स ने तो प्रदेश के एक मंत्री से भी पार्टी मे अपने कुछ साथियों को लेकर घुसने के लिए जोड़ तोड़ की सिफारिश की। बताया जा रहा है कि यह शख्स मंत्री का करीबी है। लेकिन पार्टी मे विधानसभा चुनाव के दौरान हुए बाग़ियों की किसी भी घुसपैठ की हवा भर लगने की संभावना पर भारी विरोध को देखते हुए मंत्री ने भी अपने हाथ पीछे खींच लिए है। सूत्र यह भी बताते हैं कि बैक डोर से एंट्री का मकसद आने वाले निकाय,पंचायत चुनावों मे कहीं पार्टी से भागेदारी मिल जाये इसको लेकर भी था। इधर भाजपा के समर्पित कार्यकर्ताओ की सुने तो उनका साफ कहना है कि ठीक चुनाव के दौरान पार्टी व पार्टी प्रत्याशी के खिलाफ जाने वालों की एंट्री का कोई सवाल ही पैदा नहीं होता और यदि थोडी भी इस तरह की सुगबुगाहट हुई तो उसका विरोध होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here