Home अभी-अभी 11वें पंचेन लामा की 30वीं जन्म वर्षगांठ पर तिब्बती महिला एसोसिएशन ने...

11वें पंचेन लामा की 30वीं जन्म वर्षगांठ पर तिब्बती महिला एसोसिएशन ने शांतिमार्च निकाला।

347
0
SHARE

कपिल मलिक

मसूरी : 11वें पंचेन लामा की 30वीं जन्म वर्षगांठ पर तिब्बती महिला एसोसिएशन द्वारा अखिल भारतीय शांति मार्च का शुभारंभ मसूरी हैप्पी वैली स्थित बुद्ध मंदिर से किया गया। जिसका शुभारंभ पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता ने दीप प्रज्वलित कर किया। इस मौके पर उन्होंने तिब्बती समुदाय को पंचेन लामा के जन्म दिन की बधाई दी व केंद्र सरकार से मांग की कि पंचेन लामा के बारे में जानकारी हासिल की जाय व उन्हें रिहा किया जाय।

हैप्पी वैली स्थित बुद्धा मंदिर में आयोजित पंचेन लामा जन्म दिवस शांति मार्च का पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता ने दीप जलाकर शुभारंभ किया व अपने संबोधन में केंद्र सरकार से मांग की कि पंचेन लामा का पता लगाकर उन्हें रिहा किया जाय। इस मौके पर तिब्बती महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष डोलमा यांगचेन ने कहा कि पंचेन लामा को चायना में लापता हुए 24 साल हो गये लेकिन आज तक उनका पता नहीं कि वह जीवित हैं, अगर जीवित हैं तो उनके बारे में जानकारी दी जाय। उन्होंने कहा कि वर्ष 1989 में 10वें पंचेन लामा लोबसंग थिन्ले लुहडुप चोकइ ग्यालत्सेन के देहांत के बाद 1995 में धर्मगुरू दलाई लामा ने 6 वर्ष के गेडन चोकइ नीमा को उन्हीं के पुनर्जन्म की पहचान दी। उनको मान्यता देने के कुछ दिन बाद ही चीनी सरकार ने उनका अपहरण कर लिया तथा उनके परिवारके सदस्यों व ताशी लुहम्मो मठ के मठाधीश जाब्रेल रिंपोंचे को भी हिरासत में ले लिया था। जबकि लगातार चीनी सरकार से पंचेन लामा कके रिहाई की मांग की जाती रही है और संयुक्त राष्ट्र संघ के पंचेन लामा के परिवार से मिलने का आग्रह भी ठुकरा दिया है। जबकि चीनी सरकार ने पुष्टि की है कि गेढंन चोकई नीमा  आधुनिक शिक्षा ग्रहण कर रहे है। लेकिन चीनी सरकार उनका पता बताने को तैयार नहीं है। तिब्बती महिला एसोसिएशन पूरे भारत में शांति मार्च निकालकर भारत सरकार व भारतीय नागरिकों से मांग की है कि वे इस मामले में सहयोग करें व चीनी सरकार पर दबाव डालें व पंचेन लामा का पता लगायें। इस मौके पर भारत तिब्बत सहयोग मंच के प्रदेश उपाध्यक्ष महेश पांडे ने कहा कि भारत व तिब्बत के सामाजिक सांस्कृतिक व राजनैतिक रिश्ते बहुत पुराने हैं और तिब्बत की आजादी भारत के लिए उतनी ही महत्वपूर्ण है जितनी तिब्बत के नागरिकों के लिए है। उन्होंने तिब्बत के साथ मजबूत रिश्तों को बनाये रखने के साथ ही पंचेन लामा कके बारे में पता लगाने के लिए वह तिब्बती समुदाय के साथ खडे़ हैं। इस मौके पर पूर्व अध्यक्ष तिब्बतन महिला एसोसिएशन देहरादून सोनम ला, मसूरी तिब्बत महिला एसोसिएशन की अध्यक्ष नामग्येल डोलकर, सचिव छिरिंग डोलकर, केलसंग डोलमा, गणेश सैली, पूर्व पालिकाध्यक्ष ओपी उनियाल, सभासद दर्शन रावत, प्रताप पंवार, नीरज गर्ग, मनोज गर्ग, सहित बड़ी संख्या में तिब्बती समुदाय के लोग मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here