Home अभी-अभी सदभावना वाद विवाद प्रतियोगिता में सीजेएम वेवरली ने बाजी मारी।

सदभावना वाद विवाद प्रतियोगिता में सीजेएम वेवरली ने बाजी मारी।

386
0
SHARE

कपिल मलिक

मसूरी : सदभावना मसूरी के तत्वाधान में हिंदी दिवस पर आयोजित 24वीं सरदार हरभजन सिंह ठुकराल एवं जावेद अख्तर खान स्मृति वाद विवाद प्रतियोगिता विषय विषय, न्याय मिलने में देरी से, न्याय नहीं अन्याय होता है, में प्रतिभागियों ने अपनी प्रतिभा का परिचय देकर दिए गये विषय पर अपनी वाकपटुता से स्रोताओं को मंत्रमुग्ध किया। प्रतियोगिता में सीजेएम वेवरली ने 249 अंक लेकर ओवरऑल ट्राफी कब्जाई जबकि दूसरे स्थान पर  248 अंक लेकर गुरू नानक स्कूल बालिका रही। वहीं प्रतियोगिता में सृष्टि नेगी वाइनबर्ग ऐलन स्कूल, कोमल गोदारा सीजेएम वेवरली व जानवी गुरूनानक स्कूल बालिका ने 127 अंक लेकर संयुक्त रूप से पहले स्थान पर रह, जबकि पौरवी मिश्रा सीजेएम वेवरी 122 अंक दूसरे व अंकिता रावत हेंप्टन कोर्ट, अंबिका मसूरी गल्र्स व भूमि कौर गुरू नानक स्कूल बालिका  121 अंक लेकर तीसरे स्थान पर रही।

नगर पालिका सभागार में आयोजित वाद विवाद प्रतियोगिता का पालिका अध्यक्ष अनुज गुप्ता ने दीप प्रज्वलित कर शुभारंभ किया व कहा कि न्याय मिलने में निश्चित ही देरी हो रही है लेकिन न्याय समय से मिलना भी जरूरी है कहीं ऐसा न हो कि न्याय में जल्दबाजी से किसी के साथ अन्याय न हो जाय। इसके लिए न्याय व्यवस्था को दुरूस्त कर तेजी लाने की आवश्यकता है। वाद विवाद प्रतियोगिता में मसूरी के 15 हिंदी व अंग्रेजी माध्यम के विद्यालयों मसूरी गल्र्स, सेंट क्लेयर्स, वाइनबर्ग ऐलन स्कूल, सरस्वती शिशु विद्या मंदिर, हेंपटन कोर्ट, आएनभार्गव इंटर कालेज, तिब्बतन केंद्रीय विद्यालय, सनातन धर्म गल्र्स इंटर कालेज,गुरूनानक बालक व गुरूनानक बालिका, सीजेएम वेवरली आदि के वक्ताओं ने विषय न्याय नहीं मिलता पर पक्ष एवं विपक्ष में अपने विचार व्यक्त किए। इस मौके पर प्रतिभागियों ने विषय, न्याय मिलने में देरी से, न्याय नहीं अन्याय होता है, के पक्ष एवं विपक्ष में बोलते हुए अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करते कर सभी को आकर्षित किया वहीं अकाटय तर्कों से निर्णायकों को अपने निर्णय देने पर सोचने को बाध्य किया। प्रतियोगिता का शुभारभं बतौर मुख्य अतिथि नगर पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता ने दीप प्रज्वलित कर किया वहीं अध्यक्ष रमेश जायसवाल ने सभी का स्वागत किया। वाद विवाद प्रतियोगिता में निर्णायक की भूमिका में एडवोकेट अतुल पुंडीर, एमपीजी कालेज के प्रवक्ता व वाणिज्य विभाग के अध्यक्ष डा. सुनील पंवार, लेखक साहित्यकार सुरेन्द्र पुंडीर थे कार्यक्रम का संचालन अनुज तायल ने किया। अंत में महासचिव जसबीर कौर ने सभी का आभार व्यक्त किया। इस मौके पर रफीक अहमद, भगवती प्रसाद कुकरेती, संतोष आर्य, भरोसी रावत, अरविंद सोनकर, सुनील पंवार, संदीप अग्रवाल, राजीव अग्रवाल, सहित विभिन्न विद्यालयों के प्रतिभागी व उनके शिक्षक व छात्र छात्राएं व स्रोता मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here