Home अभी-अभी शूटर देवांशी राणा के मसूरी पहुंचने पर जोरदार स्वागत

शूटर देवांशी राणा के मसूरी पहुंचने पर जोरदार स्वागत

113
0
SHARE

कपिल मलिक

मसूरी : गोल्डन ब्वॉय, पदमश्री एवं अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित जसपाल राणा की सुपुत्री निशानेबाज देवांशी राणा के जूनियर विश्व कप निशानेबाजी में दो स्वर्ण लाने व खेलों इंडिया खेलो प्रतियोगिता पुणें में भी स्वर्ण पदक लाने के बाद अपने पैत्रक गांव जाते समय किंक्रेग मसूरी में एमपीजी कालेज के छात्र छात्राओं ने जोरदार स्वागत किया गया।

विश्व में देश व प्रदेश का नाम रौशन करने वाली युवा प्रतिभा देवांशी राणा, पलायन का संदेश देने, एवं स्थानीय निवासियों में आत्मविश्वास जगाने का संकल्प लेकर अपने पैत्रिक गांव चिलामू जौनपुर जाते समय किंक्रेग पर एमपीजी कालेज के छात्र छत्राओं ने उनका जोरदार स्वागत किया। व विश्व जूनियर निशानेबाजी प्रतियोगिता में दो स्वर्ण जीतने वाली देवांशी राणा, सहित,  गत वर्ष सिडनी में आयोजित  विश्व कप निशाने बाजी में रजत पदक लाने वाली अरूणिमा गौड एंव एवं विश्व कप निशानेबाजी की सेंटर पिस्टल प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक हासिल करने वाली अंशिकां सतेंद्र का शोल पहना कर सम्मानित किया गया।

इस मौके पर देवांशी राणा ने कहा कि अपने घर आने पर बहुत अच्छा लगता है। उन्होंने कहा कि आज युवतियां वह सब कुछ कर सकती हैं जो युवा कर सकते हैं,लेकिन इसके लिए लक्ष्य हासिल करने का जज्बा होना चाहिए,ओर इसके लिए कड़ी मेहनत, के साथ एकाग्रता व आत्मविश्वास का होना जरूरी है। उन्होंने कहा कि उनका अगला लक्ष्य ओलंपिक है जिसकी तैयारी कर रही हैं। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के युवक युवतियों में आगे बढ़ने की अपार संभावनाएं हैं लेकिन उन्हें सही मार्ग दर्शन नहीं मिल पाता, वह अपने गांव जाकर यहाँ की युवतियों में आत्मविश्वास जगाने का काम करेंगी वहीं पलायन को रोकने का संदेश देंगी। उन्होंने कहा उनके साथ उनकी टीम की दो सदस्य साथ हैं उनके साथ स्थानीय युवतियों को लेकर नाग टिब्बा की चोटी पर पर्वतारोहण के लिए जायेंगी। इस मौके पर मौजूद विश्वकप शूटिंग प्रतियोगिता सिडनी में रजत पदक विजेता अरूणिमा गौड व सियोल विश्वकप शूटिंग में स्वर्ण पदक विजेता अंशिका सतेंद्र ने भी कहा कि लक्ष्य हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत जरूरी है और उनका अगला लक्ष्य ओलंपिक है। उन्होंने यह भी कहा कि आज युवतियां युवकों से किसी भी प्रतिस्पर्धा में पीछे नहीं है। मालूम हो कि देवांशी राणा ख्याति प्राप्त निशानेबाज, द्रोणाचार्य पुरस्कार प्राप्त पूर्व मंत्री नारायणं सिंह राणा की पोती व पदमश्री, अर्जुन अवार्डी गोल्डन ब्वॉय जसपाल की पुत्री है जिन्होंने अपने पिता के नक्शे कदम पर चलते हुए विश्वकप शूटिंग प्रतियोगिता सिडनी व जर्मनी में स्वर्ण पदक ला चुकी है और इसी साल जनवरी में खेलों इंडिया प्रतियोगिता में भी स्वर्ण पदक ला चुकी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here