Home अभी-अभी शिक्षक जो छात्रों व अभिभावकों के दिलों में बसता है।

शिक्षक जो छात्रों व अभिभावकों के दिलों में बसता है।

206
0
SHARE

संवाद सूत्र टिहरी

टिहरी : राजकीय इंटर कालेज गरखेत में उत्तरकाशी से आये शिक्षक आशीष डंगवाल को प्रदेश के मुख्यमंत्री ने उनकी उपलब्धियों व छात्रों के बीच उनकी बढ़ती लोकप्रियता के लिए सम्मानित किया। उन्होंने एक भेंट में बताया कि वह छात्रों की भावनाओं व उनके स्वभाव को जांचते परखते हैं और उसी के हिसाब से कार्य करते हैं।

हाल ही में गर खेत राजकीय इंटर कालेज में आने पर भी उनके छात्र छात्राओं से मधुर संबध बन गये हैं तथा छात्रों के चहेते बन गये हैं। शिक्षक आशीष डंगवाल ने बताया कि प्रदेश में कई शिक्षक हैं जो अपने कार्यों से क्षेत्र में अपनाी अलग पहचान बना चुके हैं। मेरा प्रयास रहता है कि छात्रों से कक्षा में बात करूं उनके मन की भावनाओं व स्वभाव को जानूं व समझू और उसी के हिसाब से वह छात्रों के बीच कार्य करते हैं। उन्होंने बताया कि छात्रों को जोड़ने के लिए उन्होंने ऐसा कुछ नहीं किया, लेकिन वह किया जो वह चाहते थे। और वहीं करता हूं। व छात्रों की पंसद के हिसाब से कार्य करने का प्रयास करता हूं। उन्होंने कहा कि वह पहले  छात्रों के बीच जाने व उन्हें पढ़ाने में दबाब महसूस करते थे, क्यों कि ऐसा लगता था कि कैसा पढ़ा रहा हूं छात्र समझ पा रहे हैं या नहीं लेकिन अब बिना दबाव के नहीं पढ़ाता अब वह छात्रों को पढ़ाने में कोई दबाव नहीं रखते बल्कि एन्ज्वाय करते हैं। उनके आगे कुछ करने के बारे में कहा की वह अभी शिक्षक रहना चाहते हैं तथा उसके बाद जो भी दायित्व दिया जायेगा उसे पूरा निभाने का प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि हमेशा समारात्मक सोच रखे, सकारात्मक करें व नकारात्मकता से दूर रहें। उत्तरकाशी ने जौनपुर विकास खंड के गरखेत में आने पर कहा कि यह उनके क्षेत्र उनके लिए नया है यहां के लोगों से बातचीत कर यहां के हिसाब से अपने को ढालने का प्रयास कर रहा हूं। मालूम हो कि आशीष डंगवाल ऐसे शिक्षक है जो उत्तरकाशी में थे और जिस दिन उनका स्थानांतरण हुआ तो छात्रों के साथ ग्रामीण भी रोए तथा उन्हें बाकायदा ढोल दमाउं के साथ विदा किया गया था। उनको स्थानातंरण क्षेत्र में काफी चर्चित रहा था। छात्रों के साथ उनका ग्रामीणों से बड़ा लगाव हो चुका था। यहां आने पर भी उन्होंने छात्रों में अपनी पैंठं बना ली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here