Home अभी-अभी विकास कार्यों में तेजी लाने के दिए निर्देश

विकास कार्यों में तेजी लाने के दिए निर्देश

22
0
SHARE

हेम बहुगुणा

चम्पावत/टनकपुर : नवागंतुक जिलाधिकारी रणबीर सिंह चौहान द्वारा श्री पूर्णागिरी क्षेत्र में हो रहे कार्यो का स्थलीय निरीक्षण करने के साथ ही माता पूर्णागिरी मन्दिर के दर्शन किये।

जिलाधिकारी ने पर्यटन, लोनिवि व अन्य विकास कार्य करवा रही कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारियों से कार्य की प्रगति की जानकरी लेने के साथ ही कार्य की धीमी प्रगति पर तेजी लाने के निर्देश दिये । जिलाधिकारी ने ठुलिगाड से रुपाली गाड़ तक सड़क निर्माण कार्य की प्रगति के सम्बन्ध में विभाग के अधिकारियों से जानकारी प्राप्त की तथा कार्य की तय सीमा बीतने के बाद भी कार्य पूर्ण ना होने पर उन्होंने कार्य में तेजी लाने के साथ ही जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिए।निरीक्षण के दौरान हनुमान चट्टी से मन्दिर तक बन रहे लगभग 01 किलोमीटर लंबे रोपवे का भी स्थलीय निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने रोपवे बना रही कम्पनी के अधिकारियों से कार्य की प्रगति की समीक्षा। इस पर कम्पनी के साइड इन्चार्ज अनिल शर्मा ने बतलाया की ये बनने वाला रोपवे भारत का सबसे लंबा रोपवे होगा जिसकी पूर्ण होने की तय समय सीमा 2 वर्ष रखी गई हैं, लेकिन वे रोपवे का निमार्ण तय सीमा से पहले ही करने का प्रयास करेंगे। पूर्णागिरि छेत्र के निरीक्षण के दौरान पूर्णागिरि मंदिर कमेटी के अध्यक्ष भुवन चंद्र पांडेय ने जिलाधिकारी को मंदिर परिसर में होने वाले आवश्यक कार्यो के बारे एक-एक करके बताया। उन्होंने बताया कि   मन्दिर परिसर के बीच में विधुत पोल रास्ते के बीच मे खड़े होने के कारण हमेशा खतरे का भय बना रहता है, इस पर जिलाधिकारी ने विधुत विभाग को मेले अवधि 23 मार्च से पहले ही ठीक करने के निर्देश दिए तथा पेयजल संबंधी हो रही परेशानियो को भी ठीक करने के निर्देश संबंधित विभाग को दिये। काली मन्दिर से ऊपर मुख्य मन्दिर के मध्य में यात्रियो के लिये बन रहे पेयजल टैंक के अधूरे निर्माण पर जिलाधिकारी ने कार्यदायी संस्था को टैंक को पूरा बनाने के लिए लगभग 01 लाख की जरूरत धनराशि को जारी कर पूर्ण करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने स्वछता का विशेष ध्यान रखते हुवे काली मन्दिर से मुख्य मन्दिर तक लगी जाली का आकर और ऊपर तक बढ़ाए जाने को लेकर अधिशासी अभियंता लोनिवि चम्पावत को स्टीमेट बनाकर पूरा करने के निर्देश दिये जिससे की तीर्थ यात्रियो द्वारा मन्दिर में लगी जालियो से फेके जाने वाले कूड़े में रोक लगयी जा सके तथा  मन्दिर परिसर में व्याप्त कूड़ा करकट को हटाने व नष्ट करने हेतु आपदा प्रबंधन की टीम को यहां पर केम्प कर सफाई अभियान चलाने के निर्देश दिये।

मुख्य मन्दिर के पीछे दरकि दीवार का निरीक्षण करने के साथ ही माता  पूर्णागिरि के दर्शन कर पूजा अर्चना की ।

भ्रमण कार्यक्रम के दौरान उपजिलाधिकारी टनकपुर अनिल गर्बयाल, तहसीलदार पूनम पंत, अधिशासी अभियंता लोनिवि चम्पावत डी.डी.भट्ट , पर्यटन अधिकारी लता बिष्ट, जिला पंचायत के कनिष्ठ अभियंता नन्द किशोर उप्रेती, प्रशासनिक अधिकारी विजय उप्रेती, सहायक अभियंता लोनिवि, मन्दिर कमेटी के अध्यक्ष व अन्य पदाधिकारियो समेत अन्य लोग मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here