Home अभी-अभी लोकसभा चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों को तीन बार बताना होगा अपना आपराधिक...

लोकसभा चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों को तीन बार बताना होगा अपना आपराधिक रिकार्ड

56
0
SHARE

जय प्रकाश बहुगुणा

उत्तरकाशी : जिला निर्वाचन अधिकारी डा. आशीष चौहान ने कहा है कि लोकसभा निर्वाचन लड़ने वाले उम्मीदवार को आपराधिक मामलों की जानकारी प्रचार में तीन बार देनी होगी।

उन्होंने कहा है कि लोकसभा चुनाव में स्वतंत्र, निष्पक्ष और पारदर्शी चुनाव प्रक्रिया को सुनिश्चित करने के लिए भारत निर्वाचन आयोग ने सख्त कदम उठायें हैं, जिसके तहत उम्मीदवारों को अपने खिलाफ दर्ज आपराधिक मामलों की जानकारी भी प्रचार अभियान के दौरान कम से कम तीन बार ऑडियो-वीडियो के जरिए सार्वजनिक करनी होगी। इसके अलावा आयोग ने उम्मीदवारों द्वारा दिए जाने वाले हलफनामे के फॉर्मेट में भी जरूरी बदलाव किए हैं।

उन्होंने कहा है कि अधिकतर लोग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करते हैं जैसे व्हाट्सएप, फेसबुक, ट्विटर और गूगल। उन्होंने कहा है कि सोशल मीडिया पर फर्जी सूचना और गलत जानकारी के अभियान को रोकने के लिए आयोग ने सोशल मीडिया पर भी निगरानी की पहल की है। उन्होंने कहा है कि मीडिया में पेड न्यूज एवं फर्जी खबरों के प्रसार को रोकने के लिये जिला स्तर पर मीडिया निगरानी समितियों का गठन किया गया है। उन्होंने बताया कि स्वतंत्र और निष्पक्ष करने हेतु व जनता की भागीदारी को भी ध्यान में रखते हुए, पहली बार राष्ट्रीय स्तर पर मोबाइल ऐप सी-विजिल का इस्तेमाल किया जा रहा है, इसके माध्यम से कोई भी नागरिक निर्वाचन नियमों के उल्लंघन की शिकायत कर सकता है। खास बात यह है कि शिकायत मिलने के बाद संबंधित प्राधिकारी को 100 मिनट के भीतर कार्रवाई करनी होगी। गौरतलब है कि इससे पहले पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में इस ऐप का सफलतापूर्वक इस्तेमाल किया जा चुका है। उन्होंने कहा है कि चुनाव में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं, क्रिटीकल बूथ पर पर्याप्त सुरक्षा बलों व वैब कास्टींग की मदद से मतदान केंद्रों की निगरानी की व्यवस्था की जा रही है। इसके अलावा संवेदनशील इलाकों में वेबकासिं्टग तथा स्वतंत्र पर्यवेक्षक भी निर्वाचन तैयारियों व निष्पक्ष मतदान पर नजर रखेंगे। उन्होंने कहा कि आयोग के मतदाता हेल्पलाइन नंबर 1950 के माध्यम से भी मतदाता चुनाव प्रक्रिया संबंधी शिकायत एवं सुझावों से जिला निर्वाचन कन्ट्रोल रूम को अवगत करा सकते हैं। उन्होंने कहा है कि इस लोकसभा निर्वाचन में चुनाव चिन्ह के साथ उम्मीदवारों की फोटो भी लगी होगी। चौहान ने बताया कि प्रत्येक मतदान केंद्र पर एक मतदाता सहायता केन्द्र होगा, जिसके जारिए मतदताओं को मतदान संबंधी प्रत्येक जानकारी दी जाएगी। उन्होंने बताया कि ईवीएम में उम्मीदवारों के चुनाव चिन्ह के साथ उनकी तस्वीर भी दिखेगी और मतदान के समय वीवीपैट में 7 सेकेंड तक जिसे मत दिया है उसका नाम, चिन्ह प्रदर्शित होगा, उसे मतदाता देख सकेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here