Home अभी-अभी युवा पीढ़ी को नशे व मोबाइल से बचने की नसीहत दी खिलाड़ियों...

युवा पीढ़ी को नशे व मोबाइल से बचने की नसीहत दी खिलाड़ियों ने।

46
0

बिजेंद्र पुंडीर

मसूरी : मसूरी में आयोजित नेशनल ओपन कराते प्रतियोगिता में आये युवा खिलाड़ियों ने कहा कि युवा पीढ़ी को नशे व मोबाइल से दूर रहना चाहिए व खेलों के प्रति रूचि बनायें ताकि स्वस्थ्य रहने के साथ ही बुरी आदतों से बच सकें व देश का नाम रौशन कर सकें।

मालरोड स्थित एक वैडिंग प्वांइंट में आयोजित दो दिवसीय नेशनल ओपर कराते प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश से आई इंटरनेशनल खिलाड़ी प्रियंका चोपड़ा ने कहा कि उन्होंने कई नेशनल व इंटरनेशनल कराते प्रतियोगिता में प्रतिभाग किया व अब ओलंपिक में पदक लाने के लिए कड़ी मेहनत कर रही हूं। उन्होंने कहा कि कराते महिलाओं के लिए बहुत ही उपयोगी है। यह आत्मरक्षा के लिए वर्तमान समय में जरूरी हो गया है वहीं इस खेल के माध्यम से आगे देश का नाम रौशन कर सकते हैं। आईटीबीपी से आये गौरव शर्मा ने कहा कि उन्होंने पाचं बार नेशनल प्रतियोगिता में मेडल लाये हैं उसके साथ ही अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता आस्ट्रेलिया सहित जापान में प्रतिभाग किया एशियन चैपिंयनशिप में प्रतिभाग किया। व आगामी विश्व स्तरीय प्रतियोगिता की तैयारी कर रहे हैं। उन्होंने युवाओं का आहवान किया कि वे कोई भी खेल खेलें लेकिन जरूर खेलें क्यों कि इससे जहां स्वास्थ्य ठीक रहेगा वहीं नशे व मोबाइल की लत से दूर रहने का प्रयास करें। खेल से जहां नेतृत्व क्षमता का विकास होता है वहीं आत्मविश्वास बढ़ता है और देश का नाम रौशन करने का मौका भी मिलता है। दिल्ली से आये सुशील काल्विन के बताया कि उन्होंने विश्व व एशियन कराते प्रतियोगिता में भारत का नेतृत्व किया है, तथा आने वाले कामनवेल्थ गेम्स में उनका चयन हो गया है जो साउथ अफ्रीका में होने जा रहे हैं।  उन्होंने कहा कि कराते सेल्फ डिफेंस के ेलिए बहुत उपयोगी खेल हैं पूर्णतः मार्शल आर्ट है जिसमें किक, पंच व थ्रोइंग है महिलाओं के लिए आत्म सुरक्षा के लिए यह बहुत ही उपयोगी है। वहीं नवदीप पुनिया हरियाणा ने कहा कि उन्होंने देश के लिए जापान एशियन गेम्स सहित विश्व स्कूल कराते प्रतियोगिता में प्रतिनिधित्व किया है वहीं कई नेशनल प्रतियोगिताओं में खेला व मैडल हासिल किए। उनका लक्ष्य आगामी एशियन गेम्स व विश्व चैंपियनशिप में मैडल हासिल करना है जिसके लिए तैयारी की जा रही है। उन्होंने कहा कि खेल खेलना जीवन में बहुत जरूरी है लेकिन नई पीढ़ी इससे दूर हो रही है जो ठीक नहीं है। उनका लक्ष्य डब्ल्यूकेएफ व वर्ड चैपिंयनशिप में मेडल हासिल करना है। उन्होंने यह भी कहा कि मसूरी घूमने के साथ ही खिलाड़ियों के लिए बहुत अच्छी जगह है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here