Home अभी-अभी मृत गुलदार का शावक मिलने से क्षेत्र में हड़कंप।

मृत गुलदार का शावक मिलने से क्षेत्र में हड़कंप।

560
0
SHARE

कपिल मलिक

मसूरी : पिक्चर पैलेस के निकट सराय मार्ग पर एक भवन के पुश्ते पर एक गुलदार का शावक मृत पाया गया। जिसे देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग एकत्र हो गये। बताया गया कि शावक की मां भी उसके पास थी जो भीड़ के कारण वहां से भाग गई। इस घटना से क्षेत्र वासियों में भय का माहौल बन गया है।

कुलड़ी पुलिस चैकी से मात्र दो सौ मीटर की दूरी स्थित एक होटल के सामने लक्ष्मी भवन के बेस मेंट पर गुलदार का शावक मृत अवस्था में देखा गया जिसकी सूचना वन विभाग को दी गई व वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची व गुलदार के शव को बेसमेंट से निकाला। जैसे ही लेागों को गुलदार के शावक का शव पडे़ होने का पता चला तो आसपास व बाजार के लोग बड़ी संख्या में मौके पर पहुंचे। बताया गया कि पहले शावक की मां भी उसके साथ देखी गई लेकिन जैसे जैसे लोगों की भीड़ बढ़ती गई उसकी मां भाग गई। वन विभाग के कर्मचारी  मौके पर पहुंचे व शावक को निकाला। वन कर्मी सुरेश ने बताया कि यह शावक कुछ ही समय पहले मरा है क्यों कि उसकी बाॅडी गर्म है। मौके पर आये रेंज अधिकारी विरेद्र सिंह रावत ने बताया कि सूचना मिलने पर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची व शावक का शव कब्जे में ले लिया है। शावक के मरने के कारण का पता अभी नहीं चल पाया है। शावक का पोस्टमार्टम मौके पर ही पोस्टमार्टम किया तथा देहरादून से वन विभाग की रेसक्यू टीम भी मौके पर पहुंच गयी तो रात में मादा गुलदार की गतिविधियों पर नजर रखेगी व किसी को नुकसान न हो उस पर नजर रखेगी। जायेगा जिसके लिए चिकित्सक को बुलाया गया है। वहीं उन्होंने बताया कि उसकी मां के नजदीक होने की संभावना को देखते हुए जाल की व्यवस्था की गई है। इस मौके पर इस क्षेत्र में रहने वाले व्यापार संघ के अध्यक्ष रजत अग्रवाल, मंजूर अहमद, स्थानीय निवासी संजीव कुमार आदि का कहना है कि गुलदार के बच्चे के मरने से इस क्षेत्र में दहशत का माहौल बन गया है। क्यों कि विगत दिनों भी इस क्षेत्र में मादा गुलदार व दो बच्चे सराय में रहने वाले नागरिकों ने देखे थे। जिस पर वन विभाग को सूचना दी गई थी। तब वन विभाग ने क्षेत्र में जाकर निरीक्षण किया था व लोगों को सावधान रहने को कहा था, लेकिन अब गुलदार के बच्चे के मरने के बाद क्षेत्र के लोगों में भय का माहौल बन गया है। क्यों कि मादा गुलदार अपने बच्चे को ढूंढेगी व इस क्षेत्र के लोगों को रात के समय आने जाने में परेशानियों का सामना करना पडे़गा। वहीं क्षेत्र वासियो का कहना है कि अब रात को आना जाना या घर से बाहर निकलना किसी खतरे से खाली नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here