Home अभी-अभी मसूरी में 12 मीटर उंचे व 150 वर्ग मीटर में मकान बनाने...

मसूरी में 12 मीटर उंचे व 150 वर्ग मीटर में मकान बनाने के निर्णय स्वागत योग्य कदम।

109
0
SHARE

कपिल मलिक

मसूरी : पहाड़ों की रानी मसूरी में रहने वाले लोगों के लिए विधायक गणेश जोशी के प्रयासों से भवन बनाने में राहत मिली है तथा यह कैबिनेट से स्वीकृत हो गया है। अब मसूरी में 12 मीटर तक उंचे व 150 वर्ग मीटर में भवन का निर्माण कर सकेंगे। इससे मसूरी वासियों को आये दिन निर्माण को लेकर हो रही परेशानियों से मुक्ति मिलेगी।

सेतु संस्था के तत्वाधान में आयोजित पत्रकार वार्ता में विधायक गणेश जोशी ने कहा कि अब मसूरी में 12 मीटर उंचे व 150 वर्ग मीटर में निर्माण किए जा सकेंगे वहीं प्रयास किया जा रहा है कि शीघ्र ही वन टाइम सेटलमेंट भी हो ताकि जिन लोगों ने भवन बना लिए है उन पर लटकी तलवार का डर समाप्त हो सके। मसूरी क्षेत्र में अंतर्गत अधिसूचित तथा 13 राजस्व ग्रामों हेतु फ्रीज जोने के अंतर्गत स्थायी निवासियों को प्रतिबंधों के अधीन 100 वर्ग मीटर निर्माण की अनुमति थी। उक्त क्षेत्र के अंतर्गत 100 वर्ग मीटर निर्माण की अनुमति है। विधायक ने कहा कि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने इस नीति को कैबिनेट में लाकर यह संशोधन किया है कि मसूरी विकास क्षेत्र के फ्रीज जोन एवं अधिसूचित क्षेत्र को छोडकर अन्य क्षेत्रों में पर्वतीय क्षेत्र हेतु प्राविधानित उपविधि लागू होंगे। इस क्षेत्र में पूर्व में निर्गत सभी प्राविधानों को अधिक्रमित किया गया है। यदि किसी क्षेत्र विशेष हेतु उच्चतम न्यायालय, उच्च न्यायालय अथवा राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण द्वारा विशेष आदेश दिये गये हों तो वह अनुमन्य होंगे। इससे मसूरी क्षेत्र के बाहय व अविकसित क्षेत्रों में आधारभूत सुविधाओं का विस्तार होगा। इससे छोटे भवनों व प्र्यटन संबंधी गतिविधियों का विस्तार किया जा सकेगा। जिसमें होटल गेस्ट हाउस, होम स्टे आदि शामिल हैं। इससे मसूरी के विकास को साकार किया जा सकेगा। विधायक ने मसूरी क विकास कार्यों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि किंक्रेग में 212 वाहनों की पार्किंग आने वाले मार्च तक बन जायेगी वहीं जीरो प्वांइट पर एक हजार व जेपी बैंड पर 500 वाहनों की क्षमता की पार्किंग स्वीकृत हो गयी है। जिसका शीघ्र निर्माण होगा। मसूरी की पेयजल समस्या के समाधान के लिए 144 करोड की योजना स्वीकृत हो चुकी है जिसका आठ करोड़ रिलीज हो गया है। आने वाले तीन वर्ष में यह पूरी होगी। वहीं कोल्टी के पंपों को बदलने के लिए चार करोड़ 74 लाख स्वीकृत किए गये। पुरूकुल रोपवे का कार्य शीघ्र शुरू होने जा रहा है यह मसूरी के विकास में मील का पत्थर साबित होगा। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मसूरी में आवास बनाये जायेंगे जिसके लिए पालिका से भूमि उपलब्ध कराने का प्रयास किया जा रहा है। वहीं एमडीडीए के माध्यम से वैंडर जोन का निर्माण शीघ्र किया जायेगा। इस मौके पर सेतु संस्था के अध्यक्ष मनमोहन कर्णवाल, सचिव आलोक मल्होत्रा, हरबचन सिंह, राकेश अग्रवाल, भाजपा अध्यक्ष मोहन पेटवाल, महामंत्री कुशाल राणा, मुकेश धनाई, अनीता सक्सेना, धर्मपाल पंवार, राकेश रावत सहित बड़ी संख्या में मसूरी के नागरिक मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here