Home अभी-अभी मसूरी झील से प्रशासन ने अतिक्रमण हटाओ अभियान भारी विरोध के बीच...

मसूरी झील से प्रशासन ने अतिक्रमण हटाओ अभियान भारी विरोध के बीच शुरू किया।

54
0
SHARE

कपिल मलिक

मसूरी : प्रशासन के नेतृत्तव में एक बार फिर मसूरी झील के समीप से अतिक्रमण हटाओ अभियान भारी पुलिस बल व पीएसी के साथ शुरू किया गया। अतिक्रमण हटाओं अभियान के तहत ग्रामीणों ने जोरदार विरोध दर्ज किया लेकिन प्रशासन ने एक नहीं सुनी। वहीं ग्रामीणों ने चेतावनी दी कि अगर मसूरी से अतिक्रमण नहीं हटाया गया तो वह आंदोलन करेंगे व खुद पुनः दुकाने बनायेंगे।

एडीएम बीर सिंह बुधियाल एवं एसडीएम राम गोपाल बिंदवाल के नेतृत्व में एक बार फिर मसूरी देहरादून मार्ग पर मसूरी झील के समीप जेसीबी गरजी। अतिक्रणम हटाने गये प्रशासन के दल को ग्रामीणों के विरोध का सामना करना पड़ा व लंबी बहस के बाद ग्रामीण शांत हुए। लेकिन विरोध के तेवर ढीले नहीं पडे़ उन्होंने चेतावनी दी कि यदि मसूरी से अतिक्रमण नहीं हटाया गया तो वह पुनः हटाये गये स्थानों पर दुकाने बनायेंगे व विरोध में आंदोलन करेंगे। अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत भारी संख्या में कोतवाल भावना कैंथोला के नेतृत्व में पुलिस, पीएसी व फायर सर्विस के जवान मौजूद रहे। जिन्होंने उत्तेजित ग्रामीणों को समझाने का भरसक प्रयास किया व अंत में ग्रामीणों के मानने पर उन्होंने खुद अतिक्रमण हटाना शुरू कर दिया व कुछ स्थानों पर जेसीबी चलाई गई। मौके पर मौजूद भटटा गांव के दयाल सिंह रावत, नरेश पंवार, राकेश रावत, आशीष रावत, कुलदीप जदवाण, आनंद रावत आदि ने प्रशासन की इस कार्रवाई का विरोध किया व कहा कि यहां पर स्थानीय ग्रामीणों ने रोजगार के लिए दुकानें बनाई जो साठ सत्तर साल पुरानी हैं। लेकिन प्रशासन इन्हें तोड़ कर उनके परिवारों की रोजी रोटी छीन रहा है। जिसे बर्दास्त नहीं किया जायेगा। उन्होंने कहा कि पूर्व में जब अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया गया तब भी ग्रामीणों ने अपनी दुकाने खुद तोड़ी व तब भी यह कहा गया था कि मसूरी से भी अतिक्रमण हटाया जायेगा लेकिन ऐसा नहीं किया गया केवल ग्रामीणों की दुकाने तोड़ी गयी। ग्रामीणों ने कहा कि अगर इस बार भी मसूरी से स्थाई अतिक्रमण नहीं हटाया गया तो वह जोरदार विरोध करने के साथ आंदोलन करेंगे। क्यों कि ये दुकाने ग्रामीणों ने अपनी जमीनों पर बनाई हैं। जिन्हें रोड एक्ट के तहत तोड़ा जा रहा है इसमें लागों की जमा पूंजी लगी है और अब उनकी मेहनत व पैसे को बर्बाद किया जा रहा है। इस मौके पर एसडीएम राम गोपाल बिंदवाल ने कहा कि मसूरी देहरादून मार्ग पर कुल 109 अतिक्रमण चिन्हित किए गये है जिनको एमडीडीए ने ध्वस्तीकरण के नोटिस दिए थे जिस पर प्रशासन कार्रवाई कर रहा है। और हाइवे पर यह कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी। अतिक्रमण हटाओ अभियान में एमडीडीए, लोकनिर्माण विभाग, राजस्व विभाग, जल संस्थान, नगर पालिका के अधिकारी भी मौजूद रहे। इस मौके पर नगर पालिका अधिशासी अधिकारी एमएल शाह, जल संस्थान के अधिशासी अभियंता एसके सैनी, सहायक अभियंता टीएस रावत, सहित बड़ी संख्या में कर्मचारी व ग्रामीण मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here