Home अभी-अभी मर चुकी है सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत की मानवता :डा. अनु स्वरूप

मर चुकी है सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत की मानवता :डा. अनु स्वरूप

179
0
SHARE

अरुण कश्यप

हरिद्वार : रूडकी के झबरेडा मे हुऐ शराब कांड में मारे गए दर्जनों लोगों के परिजनों से मिलने पहुंची अखिल भारतीय रमाबाई अंबेडकर महासभा की राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉक्टर अनुस्वरूप ने मृतकों के परिजनों को सांत्वना दी तथा इस दुखद घटना पर अपनी संवेदनाएं प्रकट की मृतकों के घर जा -जा कर उन्होंने इस विकट स्थिति से खुद को संभालने के लिए महिलाओं का हौसला बढ़ाया ! किसी महिला के गले मिलकर तथा किसी को समझा बुझा कर उसका दर्द बांटने का पूरा प्रयास किया उन्होंने बरखेड़ी, बाल्लूपुर ,बिंदु खड़क आदि कई गांवों का दौरा की भी किया डॉक्टर अनुस्वरूप ने मांग की कि सभी मृतकों के परिजनों को सरकार की ओर से मुआवजे के तौर पर पांच -पांच लाख रूपये की आर्थिक सहायता मिले अब तक जिस मुआवजे की घोषणा सरकार ने की है वह नाकाफी है
इस भीषण कांड से दुखी नजर आ रही अनुस्वरूप का गुस्सा उनके शब्दों में भी फूटता नजर आया उन्होंने भाजपा सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि बड़े बड़े वादे करने वाली यह सरकार आम आदमी को ठीक से इलाज का अधिकार भी नहीं देती है यदि राज्य सरकार की स्वास्थ्य प्रणाली सही होती तो इतने बड़े पैमाने पर लोगों को अपनी जान नही खोनी पड़ती एम्स जैसे बड़े अस्पताल में भी गरीबों के लिए कोई खास सुविधाएं नहीं है जहरीली शराब पीने से बीमार हुए लोगों का यदि वहां सही से इलाज हो पाता तो मृतकों की संख्या इतनी नहीं बढ़ती !
प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत पर बरसते हुए उन्होंने कहा कि हमारे संवेदनहीन मुख्यमंत्री को एक बार भी शर्म नहीं आई कि वह इतना बड़ा कांड होने के बाद भी यहॉ नहीं पहुंच पाए ऐसा लगता है जैसे सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत की मानवता भी मर चुकी है राज्य सरकार पर आरोप लगाते हुए उन्होंने यह भी कहा कि वह अपराधी अधिकारियों को बचाने का पूरा प्रयास कर रही है जो वह गलत है
इस मौके पर राष्ट्रीय प्रवक्ता वशिष्ठ पासवान, प्रदेश अध्यक्ष राजू बिराटिया जिलाध्यक्ष उमेश बोस तथा अनुज अष्टवाल, जिला महामंत्री राकेश कश्यप विधानसभा अध्यक्ष जावेद अंसारी,मोहित कर्णवाल, विनोद आजाद तथा सैकड़ों संगठन की महिला कार्यकर्ता उपस्थित रही

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here