Home अभी-अभी भातिसीपु बल में 45 अधिकारी भव्य दीक्षांत परेड के बाद बल की...

भातिसीपु बल में 45 अधिकारी भव्य दीक्षांत परेड के बाद बल की मुख्यधारा में शामिल।

137
0
SHARE

कपिल मलिक

मसूरी : भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल अकादमी में आयोजित भव्य दीक्षांत परेड एवं शपथ ग्रहण के बाद 45 सहायक सेनानी बल की मुख्यधारा हिमवीरों में शामिल हो गये। इस मौके पर महानिदेशक आईटीबीपी एसएस देशवाल आईपीएस ने परेड की सलामी ली व कहा कि नव सैन्य अधिकारी अपनी जिम्मेदारी व समर्पण भाव से कार्य कर अकादमी, बल व देश का नाम रौशन करें।

आईटीबीपी परेड ग्राउंड में आयोजित 11वें सहायक सेनानी दीक्षांत परेड का मुख्य अतिथि महानिदेशक आईटीबीपी एसएस देशवाल ने निरीक्षण किया व उसके बाद बल के ब्रास बैंड की मधुर धुन पर भव्य परेड की सलामी ली। इससे पूर्व 45 नव सैन्य अधिकारियों को राष्ट्रध्वज व बल के ध्वज के समक्ष शपथ ली। इस मौके पर बतौर मुख्य अतिथि महानिदेशक एसएस देशवाल ने सभी नव सैन्य अधिकारियों व उनके परिजनों को बधाई दी व कहा कि 25 सप्ताह के कठिन प्रशिक्षण के बाद आज बल की मुख्यधारा से जुड़ कर देश की सीमाओं की सुरक्षा व सेवा करने का दायित्व आ गया है जिसमें अनेक चुनौतियों का सामना करना होगा। उन्होंने कहा कि बल के जवान व अधिकारी उच्चहिमालयी सीमाओं के साथ ही देश की आंतरिक सुरक्षा, नक्सलवाद क्षेत्र व वीवीआईपी सुरक्षा व विदेशों में भी अपना दायित्व जिम्मेदारी से संभाल रहे हैं। उन्होंने नव सैन्य अधिकारियों से कहा कि आईटीबीपी मल्टी टास्क फोर्स है जिसमें सुरक्षा के साथ ही अनके क्षेत्रों पर्वतारोहण, राफटिंग, कराते, आदि में नाम कमाया है। यही कारण है कि यह बल अन्य अर्धसैनिक बलों में अपनी विशेष पहचान रखता है। हमारे जवान उच्च हिमालयी क्षेत्र में नौ से साढे अठारह हजार फीट की उंचाई पर माइनस 45 डिग्री में भी सेवायें देते हैं। उनके अदम्य साहस से अन्य बल भी प्रेरणा लेते हैं। बल ने जनता का भरोसी जीता है और आंतकवाद के खिलाफ महत्वपूर्ण सफलता हासिल करने के साथ ही नक्सल ग्रस्त क्षेत्र में भी जनता का विश्वास जीता है। बल राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति भवन, प्रधानमंत्री की सुरक्षा सहित व संसद की सुरक्षा में तैनात है व अपनी जिम्मेदारी ईमानदारी, धैय व समर्पण भाव से निभा रहा है। जिसकी सराहना की गई है। वहीं आपदा प्रबंधन में भी अपनी कुशलता का परिचय दिया है। कैलाश मानसरोवर यात्रा, अमरनाथ यात्रा को सकुशल संपन्न करा रहा है। उन्होंने कहा कि बल के जवानों के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाएं चलायी जा रही हैं व उनके बच्चों की शिक्षा के लिए दिल्ली में विद्यालय खोला गया है व सीमाओं पर अत्याधुनिक सुविधाएं दी जा रही हैं। इस मौके पर उन्होंने नव सैन्य अधिकारियों से कहा कि वे जहां अपने दायित्वों का निर्वहन अपने प्रशिक्षण के अनुसार कर चुनौतियों का सामना करेंगे वहीं उनका दायित्व यह भी है कि वह अपने अधीनस्त कर्मियों की हर बात का ध्यान रखें तथा लीडरशिप व समर्पण भावना से कार्य करें। इससे पूर्व अकादमी के निदेशक आईजी पीएस पापटा ने कहा कि यह नव सैन्य अधिकारियों एवं उनके परिजनों के लिए यह अविस्मरणीय दिवस है। उन्होंने कहा कि इस बार तीन महिलाएं भी है जो पुरूषों की भांति बल में सभी जरूरी सेवाएं देंगी, तथा यह अन्य के लिए प्रेरणा बनेंगी। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण में जितना पसीना बहाया उतना ही खूब बचाया जा सकता है। इसलिए प्रशिक्षण का अपने दायित्वों में निर्वहन में उपयोग करें। कार्यक्रम के अंत में उपनिदेशक ब्रिगेडियर डा.राम निवास ने सभी का आभार व्यक्त किया। इस मौके पर प्रशिक्षण के दौरान उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले नव सैन्य अधिकारियो को मुख्य अतिथि देशराज ने पुरूस्कार प्रदान किए जिसमें सर्वोत्तम प्रशिक्षर्णी ब्रजेश कुमार, वाहय क्रिया क्लापों मे प्रथम रसपाल सिह गुलेरिया, व आंतरिक प्रशिक्षण क्रिया क्लापों में प्रथम सुबोध कुमार हैं।

पासिंग आउट परेड के बाद नव सैन्य अधिकारियों के कंधों पर मुख्य अतिथि, बल के अधिकारियों व परिजनों ने सितारे सजाये व उसके बाद टोपियां हवा में उछाल कर खुशी व्यक्त की। इस दौरान बल के जवानों में पीटी व शारिरिक दक्षता का प्रदर्शन भी किया वहीं बल के ब्रास बैंड व पाइप बैंड ने अपनी मनमोहक धुनों से लोगों को झूमने पर मजबूर किया।

बल की मुख्य धारा में शामिल 45 नव सैन्य अधिकारियों में उत्तराखंड से सबसे अधिक 16 है जिसमें 14 पुरूष व दो महिलाएं, हिमाचल प्रदेश से चार पुरूष व एक महिला, उत्तर प्रदेश से 12, राजस्थान से 4, बिहार से 2, हरियाणा, महाराष्ट्र, नागालैंड व मणिपुर से एक एक अधिकारी शामिल हैं। इस मौके पर आईजी नॉर्दन जोन निलाभ किशोर, पूर्व आईजी बीएसएफ मनोरंजन त्रिपाठी, पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता, सेनानी प्रशासन परविंदर सिंह, सेनानी प्रशिक्षण वेणुधर नायक सहित वाइनबर्ग एलन के प्रधानाचार्य बल के अधिकारी, जवान व अभिभावक मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here