Home अभी-अभी भाजपा को बहुत बड़ी नसीहत दे गए निकाय परिणाम

भाजपा को बहुत बड़ी नसीहत दे गए निकाय परिणाम

377
0
SHARE

जय प्रकाश बहुगुणा

बडकोट : उत्तरकाशी जनपद में जिस प्रकार भारतीय जनता पार्टी को नगर निकाय चुनाव में हार का सामना करना पड़ा है वह जिला संघठन के लिए एक बहुत बड़ी नसीहत है।जिले की तीन नगर पालिका व दो नगर पंचायत की अध्यक्ष पद की सीटों में से एकमात्र नौगांव नगर पंचायत अध्यक्ष सीट मिलना संघठन के अंदर किसी बड़े मन मुटाव की ओर संकेत कर रहे हैं।
जब से भारतीय जनता पार्टी ने संघठन की दृष्टि से दो भागों में विभाजित उतरकाशी जनपद को पुनः एक ही सांगठनिक जिले के रूप में परिवर्तित कर एक जिलाध्यक्ष को नियुक्त किया है तब से पार्टी के गंगा घाटी व यमुना घाटी के संघठन में एकीकरण के बजाय बिखराव आया है।फिर बडकोट व पुरोला के कुछ प्रतिष्ठित कार्य कर्ताओं को नगर निकाय चुनाव से तीन दिन पहले पार्टी से बाहर करने का फैसला भी पार्टी को इन चुनावों में महंगा पड़ा है।कुल मिलाकर यदि भारतीय जनता पार्टी लोक सभा चुनाव से पहले जिला संघठन में आमूल चूल परिवर्तन या नकेल नही कसी तो आगामी लोकसभा चुनाव में पार्टी के लिए यह भारी पड़ सकता है।इस समय जबकि भारतीय जनता पार्टी के यमुनोत्री विधानसभा से केदार सिंह रावत व गंगोत्री विधानसभा से गोपाल रावत विधायक है लेकिन नगर निकाय चुनाव में गलत टिकट वितरण व आपसी तालमेल न बिठा पाने के कारण भाजपा प्रत्याशियों को बुरी तरह हार का सामना करना पड़ा।बड़कोट नगर पालिका अध्यक्ष पद पर तो भाजपा प्रत्याशी वर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष जशोदा राणा का नामांकन खारिज हो गया था।जिस कारण भाजपा को श्रीमती कृष्णा राणा को अधिकृत प्रत्याशी बनाना पड़ा था।जबकि जो प्रत्याशी कांग्रेस के टिकट पर विजय हुई वह भी भाजपा की बागी प्रत्याशी थी।यदि समय रहते उत्तरकाशी भाजपा नही सम्भली तो लोकसभा चुनाव में इसके गम्भीर परिणाम देखने को मिलेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here