Home अभी-अभी पालिका कर्मी के शैक्षिक दस्तावेजों में भिन्नता होने पर जांच के आदेश।

पालिका कर्मी के शैक्षिक दस्तावेजों में भिन्नता होने पर जांच के आदेश।

525
0
SHARE

कपिल मलिक

मसूरी : नगर पालिका मसूरी में कार्यरत एक कर्मचारी के खिलाफ शिक्षा के गलत प्रमाण पत्र के आधार पर नौकरी पाने का आरोप लगाये जाने से पालिका में हड़कंप मचा है। बताया गया कि पालिका कर्मचारी विनोद कुमार के शैक्षिक प्रमाण पत्रों में भिन्नता होने के कारण यह मामला इन दिनों सुर्खियों में है। इस मामले की जांच भी शुरू हो चुकी है। इस संबंध में नायब तहसीलदार ने नगर पालिका जाकर जांच की हैं।

मसूरी के एक पत्रकार दीपक सक्सेना को सूत्रों से मालूम चला कि पालिका के कर्मचारी विनोद कुमार पुत्र स्व. रामचरण के पालिका में दिए गये शैक्षिक प्रमाण पत्र में भिन्नता है। जिसमें कक्षा 10 व कक्षा 12 के प्रमाण पत्र में प्राप्त किए गये अंकों व कक्षा 123 के प्रमाण पत्र में पिता का नाम अलग अलग है। उन्होंने पालिका अधिशासी अधिकारी व एसडीएम मसूरी को पत्र लिख कर मामले की सत्यता की गोपनीय जांच करने की मांग की है। वहीं यह भी मांग की गई कि यदि प्रमाण पत्र व अंक तालिका गलत पायी जाय तो उचित कार्रवाई की जाय।

मामला संज्ञान में आने पर एसडीएम मसूरी ने अपर सचिव माध्यमिक शिक्षा परिषद उत्तर प्रदेश क्षेत्रीय कार्यालय वाराणसी से शिक्षा प्रमाण पत्रों के संबध में जानकारी मांगी है। पत्र में कहा गया कि पालिका कर्मचारी विनोद कुमार पुत्र स्व. रामचरण ने हाई स्कूल की परीक्षा 2010 में नवा नगर बलिया उत्तर प्रदेश से दिखाई गई है। जिसमें अनुक्रमांक 3752136 इंटरनेट मार्कसीट में वह अनुत्र्तीण है। लेकिन जो मार्कसीट नगर पालिका के सेवा अभिलेखों में प्रस्तुत की गई है अनुक्रमाकं 3752136 की हाई स्कूल मार्क सीट में उत्र्तीण दिखाया गया है। वहीं इंटर मीडिएट परीक्षा 2012 की अंकतलिका अनुक्रमांक 2129336 में विनोद कुमार पुत्र भगवान सिंह अंकित है जबकि नगर पालिका सेवा अभिलेखों में इसी अनुक्रमांक में विनोद कुमार पुत्र रामचरण अंकित है। जिससे लगता है कि कहीं न कहीं इस मामले में झोल है। इस पर एसडीएम ने भी अपर सचिव माध्यमिक शिक्षा परिषद को पत्र भेज कर शिक्षा प्रमाण पत्रों के जांच के बारे में लिखा है। वहीं विगत दिनों नायब तहसीलदार पूरण सिंह तोमर ने पालिका कार्यालय जाकर मामले की जांच की व कहा कि उन्होंने रिपोर्ट उत्तरप्रदेश शिक्षा विभाग को भेज दी है वहां से जो भी मामला सामने आयेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here