Home अभी-अभी पालिकाध्यक्ष ने एमपीजी कालेज के प्रधानाचार्य से पांच बिंदुओं पर स्पष्टीकरण मांगा।

पालिकाध्यक्ष ने एमपीजी कालेज के प्रधानाचार्य से पांच बिंदुओं पर स्पष्टीकरण मांगा।

824
0
SHARE

कपिल मलिक

मसूरी : पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता ने एमपीजी कालेज मसूरी के प्रधानाचार्य को पत्र भेज कर पांच बिंदुओं पर स्पष्ठी करण मांगा है। जिसमें कई गंभीर बिंदु है। वहीं कहा कि उत्तर से संतुष्ट न होने पर उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी।

पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता ने पालिका द्वारा संचालित डिग्री कालेज एमपीजी कालेज के प्रधानाचार्य डात्र एसपी जोशी को पत्र भेज कर स्पष्ठीकरण मांगा है जिसमें कई गंभीर मामले है। अध्यक्ष अनुज गुप्ता ने कहा कि प्रधानाचार्य लंबे समय से कालेज में देरी से आ रहे हैं तथा शीघ्र चले जाते हैं उनके बायो मैट्रिक से उपस्थिति का अवलोकन किया गया। जिसमें अनुपस्थिति पायी गई वहीं बिना अवकाश स्वीकृति के महाविद्यालय से अनुपस्थित रहते हैं। उन्होंने स्पष्ठीकरण में मांगा है कि नियमित रूप से कालेज विलंब से आने का कारण स्पष्ट करें, विश्वविद्यालय की इन दिनों परीक्षा चल रही है जो प्रातः आठ बजे शुरू होती है और प्रधानाचार्य विलंब से आते हैं ऐसे में परीक्षा के पेपर कौन खोलता है, यह गंभीर मामला है जो लापरवाही को दर्शाता है इसका कारण स्पष्ट करें। वहीं माह दिसंबर में जो अवकाश लिए गये है उसमें अध्यक्ष प्रबंध समिति से स्वीकृत नहीं कराया गया इस स्थिति को स्पष्ट करें, वहीं अवकाश व मुख्यालय छोड़ने पर अधोहस्ताक्षरी से कोई अनुमति नहीं ली जाती इसका कारण स्पष्ट करें तथा वर्तमान में निवास की दूरी व निवास का स्थान की जानकारी दें। कहा कि प्रधानाचार्य का यहां पर निवास है लेकिन वह देहरादून से आते है। उन्होंने यह भी कहा कि चुनाव आचार संहिता के दौरान उन्होंने कर्मचारियों के प्रमोशन किए, व अन्य कई अनियमितताएं की है व लगातार शिकायतें आ रही हैं। उन्होंने कहा कि अगर प्रधानाचार्य ने शीघ्र संतोषजनक उत्तर नहीं दिया तो इन गंभीर विषयों पर कड़ी कार्रवाई की जायेगी। इस संबंध में जब प्रधानाचार्य से संपर्क किया गया तो डा एसपी जोशी ने कहा कि नगरपालिकाध्यक्ष से आवास की मांग की गई थी जिस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई जो वर्तमान में आवास है उसके एक हिस्से में एक प्राध्यापक रहते हैं। उन्होंने कहा कि जो भी मामला है उसे शीघ्र सुलझा लिया जायेगा क्यों कि अध्यक्ष प्रबंध समिति के अध्यक्ष भी हैं लेकिन संवाद न होने के कारण कोई उन्हें कोई गलत जानकारी देकर दोनों के बीच विवाद पैदा करना चाहता है। उन्होंने उम्मीद जताई कि वर्तमान प्रधानाचार्य के नेतृत्व मे महांविद्यालय नई उंचाइयों को हासिल करेगा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here