Home अभी-अभी पंचायतों का परिसीमन निर्धारित समय में पूरा करें-डी एम

पंचायतों का परिसीमन निर्धारित समय में पूरा करें-डी एम

182
0
SHARE

जय प्रकाश बहुगुणा

उत्तरकाशी : जिलाधिकारी डा. आशीष चौहान ने जनपद के सभी खण्ड विकास अधिकारियों को शासन के द्वारा जारी समय सारणी के अनुसार ग्राम पंचायतों के पुर्नगठन एवं परिसीमन की सम्पूर्ण प्रक्रिया को समपन्न कराने के आदेष जारी किए हैं। मानक के अनुसार पंचायतों के पुर्नगठन/परिसीमन यथा प्रस्तावित पुर्नगठन प्रस्तावों का परीक्षण एवं सूची तैयार करने व पुर्नगठन प्रस्ताव का अन्तिम प्रकाशन आपत्ति आमंत्रित करना तथा अन्य कार्यो के लिए समय सारणी निर्धारित की गई है। जिलाधिकारी ने जारी आदेश में सभी खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि पुर्नगठन एवं परिसीमन के प्रस्तावों पर प्राप्त आपत्तियों का विकास खण्ड स्तर पर एक रजिस्टर में तिथि व ग्रामवार प्राप्त आपत्तियों को अवश्य अंकित करते हुए नियत तिथि से पूर्व आपत्तियों को जिला पंचायत राज अधिकारी को उपलब्ध करायें। सभी प्राप्त आपत्तियों का सम्यक रूप से विचारोपरान्त निस्तारण हेतु जिला स्तर पर गठित समिति के द्वारा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि शासन द्वारा जारी समय सारणी के अनुसार पुर्नगठन एवं परिसीमन की सम्पूर्ण प्रक्रिया सम्पन्न करायी जाएगी।
जिसमें 3 अक्टूबर से 5 अक्टूबर 2018 तक प्रस्तावित पुर्नगठन प्रस्तावों का परीक्षण एवं सूची तैयार करना व 6 अक्टूबर को पूर्नगठन प्रस्ताव का अन्तिम प्रकाशन किया जाएगा। 08 से 10 अक्टूबर तक पुर्नगठन प्रस्तावों पर आपत्तियां आमंत्रित करना व 11 से 12 अक्टूबर तक प्राप्त आपत्तियों का निस्तारण किया जाएगा। 15 अक्टूबर को अन्तिम प्रस्तावों का प्रकाशन पंचायतराज निदेशालय को भेजा जाएगा। 16 से 22 अक्टूबर तक नव गठित एवं उससे प्रभावित अन्य ग्राम पंचायतों के प्रादेशिक निर्वाचन क्षेत्रों के परिसीमन प्रस्ताव तैयार करना व 23 अक्टूबर को प्रादेशिक निर्वाचन क्षेत्रों की सूची का अन्तिम प्रकाशन किया जाएगा।
जिलाधिकारी ने कहा कि 25 से 26 अक्टूबर तक प्रादेशिक निर्वाचन क्षेत्रों के प्रस्तावों पर आपत्तियां आमंत्रित करना व 27 से 29 अक्टूबर तक आपत्तियों का निस्तारण किया जाएगा। 30 अक्टूबर को परिसीमन प्रस्तावों का अन्तिम प्रकाशन व 31 अक्टूबर को प्रादेशिकक निर्वाचन क्षेत्रों की सूची पंचायतराज निदेशालय को उपलब्ध करायी जाएगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here