Home अभी-अभी झड़ीपानी राउमावि बंद न किया जाय व जेपीबैंड चूनाखाला रोड का चैडीकरण...

झड़ीपानी राउमावि बंद न किया जाय व जेपीबैंड चूनाखाला रोड का चैडीकरण किया जायं।

251
0
SHARE

कपिल मलिक

मसूरी : नगर पालिका मसूरी झड़ीपानी क्षेत्र के सभासद सुरेश थपलियाल ने प्रदेश के मुख्यमंत्री को ज्ञापन देकर मांग की कि झड़ीपानी स्थित राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय को बंद न किया जाय तथा जेपी बैंड से चूनाखाला मार्ग का चैड़ीकरण किया जाय।

पालिका सभासद सुरेश थपलियाल ने ज्ञापन के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि झड़ीपानी के छात्र छात्राओं को पढ़ने के लिए घनानंद, मसूरी गल्र्स व सनातन धर्म गल्र्स इंटर कालेज व आरएन भार्गव इंटर कालेज आना पड़ता था जो कि बहुत दूर था जिसको देखते हुए तत्कालीन सरकार ने झड़ीपानी में 1998-99 में राजकीय हाई स्कूल खोला जब कि यहां पहले बीटीसी प्रशिक्षण केंद्र था जो 1978 में बंद कर दिया गया था जिसके बाद यहां पर राजकीय मॉडल स्कूल खोला गया जो 1998 तक चला उसके बाद इसे हाई स्कूल के रूप में उच्चीकृत किया गया। यहां पर क्षेत्र में गरीब बच्चे पढ़ते हैं लेकिन संख्या कम होने के कारण सरकार इस विद्यालय को बंद करने जा रही है जो कि गरीब बच्चों के साथ अन्याय होगा। क्यों कि यहां से दूसरा राजकीय विद्यालय करीब सात किमी दूर है। उन्होंने मुख्यमंत्री से मांग की कि इस विद्यालय को जनहित व गरीब हिम में बंद न किया जाय। उन्हांने विश्वास दिलाया कि आगामी सत्र में छात्र छात्राओं की संख्या बढाने का पूरा प्रयास किया जायेगा। वहीं उन्होंने अलग ज्ञापन देकर मांग की  कि जेपी बैंड से झड़ीपानी चूनाखाला मार्ग का चैड़ीकरण किया जाय। उन्होंने कहा कि इस मार्ग पर ख्याति प्राप्त विद्यालय व होटल होने के कारण यहां यातायात का दबाव लगातार बढ़ रहा है लेकिन मार्ग संकरा होने के कारण हर समय दुर्घटना का खतरा बना रहता है। अब हाल यह है कि अधिकतर वाहन इसी मार्ग से देहरादून जाते व आते हैं। उन्होंने मांग की कि जनता के हितों को देखते हुए इस मार्ग का चैड़ीकरण किया जा सके ताकि भविष्य में दुर्घटनाओं से बचा जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here