Home अभी-अभी जिलाधिकारी की अनोखी पहल

जिलाधिकारी की अनोखी पहल

85
0

सोनू उनियाल

चमोली : चमोली की जिलाधिकारी ने पेश की अनोखी पहल, आंगनबाड़ी केंद्र में कराया अपने दो साल के बेटे का दाखिला, बताई ये वजह।

आज के दौर में जहां लोग अपने पाल्यों को छोटी उम्र से ही प्राइवेट प्ले स्कूलो में दाखिला करवा रहे हैं, वहीं, आईएएस पति-पत्नी ने अपने बच्चे का आंगनबाड़ी केंद्र में दाखिला करवाया है। तो चलिए जानते हैं कि उनके बारे में खास बातें।

उत्तराखंड में चमोली की जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया और आईएएस नितिन भदौरिया ने अपने दो साल के बेटे अभ्युदय भदौरिया का दाखिला प्ले स्कूल के बजाय आंगनबाड़ी केंद्र में कराकर अनोखी पहल की है। आज मंगलवार से बच्चे को नियमित रूप से केंद्र में दाखिला दिलाया गया है।

इसको लेकर उन्होंने कहा कि लोगों को केंद्र सरकार की इस कल्याणकारी योजना के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानना चाहिए। शायद हमारी इस पहल से लोग इसके लिए प्रेरित हो सकें। जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने कहा कि आंगनबाड़ी केंद्र सरकार की कल्याणकारी योजना है। इसका सभी को फायदा लेना चाहिए। आईएएस स्वाति भदौरिया उत्तर प्रदेश की रहने वाली हैं। उनकी शादी यूपी के ही आईएएस नितिन भदौरिया से 9 फरवरी साल 2014 में हुई थी। शादी के बाद दोनों ने बातचीत कर कैडर बदलने का फैसला लिया और स्वाति उत्तराखंड आ गईं।  उनके पति आईएएस नितिन ने लखनऊ सहित दूसरे राज्य से पढ़ाई की है। उत्तराखंड कैडर होने के नाते उन्होंने पहाड़ और मैदान दोनों जगह सेवा दी हैं। इससे पहले आईएएस स्वाती और उनके पति दोनों ही देहरादून सचिवालय में भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं। इसके साथ ही वह मसूरी में भी एसडीएम रह चुकी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here