Home अभी-अभी जर्जर भवन में पढ़ने को मजबूर नौनिहाल

जर्जर भवन में पढ़ने को मजबूर नौनिहाल

101
0
SHARE

जय प्रकाश बहुगुणा

बड़कोट : उत्तराखंड राज्य को बने हुए 18 वर्ष हो गए हैं लेकिन अभी तक यहाँ की शिक्षा ब्यवस्थायें पटरी पर नही आई है।कही शिक्षक है तो छात्र नही कही छात्र है तो शिक्षकों का टोटा है।उत्तर प्रदेश के समय बने विद्यालय भवनों का तो बुरा हाल है।ऐसे ही एक जर्जर विद्यालय भवन है चोपड़ा गांव में।उत्तरकाशी विकास खण्ड नौगांव ग्राम पंचायत चोपड़ा के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में बच्चे कड़ाके की सर्दी के बीच भी विद्यालय के आंगन में व बाहर शिक्षा ग्रहण करने को मजबूर हैं । आपको बता दें कि विद्यालय भवन इतना जर्जर हो रखा है कि शिक्षक कक्षा में बच्चों को बैठाने से डर रहे हैं। सबसे अधिक परेशानी बारिश में होती है जब न बाहर बिठा सकते हैं और न अंदर बच्चों को बिठा सकते हैं।क्षेत्र के सामाजिक कार्यकर्ता सोवत राणा ने जानकारी देते हुए बताया कि राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय चोपड़ा गांव में करीब 30 से अधिक बच्चे शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। लेकिन विद्यालय भवन जर्जर होने के कारण विद्यालय भवन में नहीं बैठाये जाते क्यों कि छत से भी पानी टपकता और बारिश होने पर भवन में भी पानी भर जाता है।

विद्यायलय की दीवारें भी इतनी जर्जर हालात में है की भूकंप का छोटा सा झटका ही काफी है।उन्होंने कहा कि यदि समय रहते इस विद्यालय भवन का पुनर्निर्माण नही करवाया जाता तो कभी भी यहाँ हादसा हो सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here