Home अभी-अभी गढ़वाल आयुक्त ने ली जिला योजना समीक्षा बैठक

गढ़वाल आयुक्त ने ली जिला योजना समीक्षा बैठक

100
0
SHARE

जय प्रकाश बहुगुणा

उत्तरकाशी : कृषि, उद्यान, पशुपालन, उद्योग,शिक्षा स्वास्थ्य, बाल विकास की ग्रामीण स्तर पर महत्पूर्ण भूमिका बताते हुए गढ़वाल आयुक्त  बीवी आरसी पुरूषोतम ने जिला योजना की समीक्षा बैठक ली।

जिला सभागार में आयोजित समीक्षा बैठक में आयुक्त  पुरूषोतम ने कहा कि ग्रामीण स्तर पर रेखीय विभागों का महत्वपूर्ण योगदान होता है। उन्होंने कहा कि कृषि, उद्यान, पशुपालन, उद्योग,शिक्षा स्वास्थ्य, बाल विकास के द्वारा अगले तीन वर्ष के लिए ग्रामीण स्तर पर क्या कार्य किए जाएंगे इस हेतु प्लान बनाने के साथ ही गंगा व यमुना वैली के सुदूवर्ती के 20-20 गांव का चिन्ह्किरण करें । ताकि  गांवों में विकास कार्य व जरूरत मंदों के लिए  कार्य किए जा सकें  इस हेतु प्लान बनाने के निर्देश मुख्य विकास अधिकारी व संबंधित अधिकारियों को दिए।

आयुक्त गढ़वाल ने उद्यान विभाग की गहन समीक्षा करते हुए कहा कि जनपद में मटर की पैदावार क्षमता को बढ़ाया जाए तथा 1291 हैक्टेयर से मटर की खेती को एक वर्ष के भीतर 1700 हेक्टेयर करने के साथ ही अन्य फसलों की उत्पादन क्षमता को भी बढ़ायें। उन्होंने कहा कि जनपद में 40 आंगनबाड़ी केन्द्रों को मॉडल आंगनबाड़ी केन्द्र के रूप में विकसित किया जाए तथा कुपोषित बच्चों को जिला स्तरीय अधिकारी गोद लेकर उनकी प्रोटीन युक्त ऊर्जा फूड देकर मदद करें। ताकि जनपद में कोई भी बच्चा कुपोषित न रहें।

आयुक्त गढ़वाल पुरूषोतम ने आयुष्मान भारत योजना व प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ हर जरूरत मंद तक पहुंचाने के निर्देश देते हुए अब तक की प्रगति को भी तलब किया। करीब 36 हजार के सापेक्ष 30 हजार किसानों ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के आवेदन जमा कर लिए है तथा  शीध्र सभी आवेदन को ऑनलाईन कराने के भी निर्देश दिए।

आयुक्ता ने कहा  कि पर्यावरण को बचाने हेतु वनाग्नि पर भी अंकुश लगाने की जरूरत है इस हेतु वन विभाग पुख्ता तैयारी करें। उन्होंने कहा कि आगामी लोकसभा सामान्य निर्वाचन को देखते हुए भी वन विभाग अपने संसाधनों सहित प्लान बनायें ताकि वनाग्नि पर अंकुश लगाया जा सके। आयुक्त ने सिचाई विभाग के द्वारा नमामि गंगे के अन्तर्गत बनाएं गए मणिकर्णिका घाट में गंगा नदी के जल स्तर बढ़ने व कम होने पर घाट पर लोहे की चैन लगाने के निर्देश देते हुए श्रद्धालुओं के लिए चैंजिग रूम का प्लान बनाने के भी निर्देश दिए। इस दौरान आयुक्त गढ़वाल  पुरूषोतम ने चार प्रगतिशील किसानों को 25-25 हजार रूपये के चैक भी वितरण किए।

इससे पूर्व आयुक्त श्री बीवी आरसी पुरूषोतम व जिलाधिकारी डा. आशीष चौहान ने नलूणा में निर्माणाधीन मोटर पुल का निरीक्षण किया। उन्होंने अधिशासी अभियंता एडीबी को पुल निमार्ण के कार्यो में तेजी लाने के निर्देश दिए। ताकि स्थानीय जनता इसका लाभ समय से मिल सके।

बैठक में जिलाधिकारी डा. आशीष चौहान, डीएफओ संदीप कुमार, पुलिस अधीक्षक पंकज भट्ट, मुख्य विकास अधिकारी प्रशान्त आर्य,परियोजना निदेशक आरसी रावत, अपर अर्थ एवं संख्याधिकारी सुरेश नौटियाल, जिला विकास अधिकारी संजय सिंह, सीवीओ डा. प्रलंयकरनाथ, सहायक निदेशक मत्स्य प्रमोद शुक्ला, मुख्य कृषि अधिकारी महिधर सिंह तोमर आदि उपस्थित रहे..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here