Home अभी-अभी गढवाल सभा का स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया। समाज सेवा के कई...

गढवाल सभा का स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया। समाज सेवा के कई निर्णय लिए।

195
0
SHARE

कपिल मलिक

मसूरी : गढवाल सभा का स्थापना दिवस लाइब्रेरी स्थित एक होटल में धूमधाम से मनाया गया। इस मौके पर प्रस्ताव लाया गया कि सभा आगामी समय में पांच छात्र व पांच गरीब व मेधावी छात्रों को छा़त्रवृद्धि दी जाय वहीं यह भी तय किया गया कि गढवाल महिला सभा महिलाओं की आर्थिकी मजबूत करने के लिए गढवाली व्यंजन बनाने, यहां के परिधानों को बनाने, व यहां के उत्पादों को प्रोत्साहित करने के लिए कार्य करेगा व उसके विपणन के लिए एक स्थान बिक्री के लिए तय किया जायेगा। इस मौके पर राजश्री रावत ने कहा कि गढवाल महासभा अपने भवन को बनाने के साथ महिलाओं के आर्थिक विकास के लिए कार्य करे। उन्होंने कहा कि इस संबंध में उन्होंने गढवाल मंडल विकास निगम से बात की है जो महिलाओं को सामान उपलब्ध करायेगे ताकि वह गढवाली व्यंजन बना सकें व इसके लिए उन्हें मानदेय दिया जायेगा। इस मौके पर पूर्व विधायक जोत सिंह गुनसोला ने सभी को गढवाल सभा के स्थापना दिवस की बधाई दी व कहा कि सभी के सहयोग से गढवाल सभा का भवन तैयार किया जा रहा है। लेकिन किन्हीं कारणों से काम रोका गया है जिसके लिए प्रशासन, शासन व सरकार स्तर पर कार्य किया जा रहा है। क्यों कि वहां पर रोपवे आना है। उन्होंने कहा कि गढवाल सभा का उददेश्य गढवाली बोली भाषा के विकास, के साथ ही यहां के खानपान, पहनावे, संस्कृति व सांस्कृतिक विरासत का विकास करना व उसे बचाना है। उन्होंने यह भी कहा कि सभा आने वाले समय में पांच छात्र छात्राओं को छात्रवृति देने पर विचार किया जा रहा है महिलाओं के लिए सिलाई बुनाई कढ़ाई केंद्र खोला जायेगा व यहां कि वस्तुओं को एकत्र कर संग्रहालय बनाया जायेगा। इस मौके पर पूर्व पालिकाध्यक्ष मनमोहन सिंह मल्ल ने कहा कि सभी के सहयोग से ही यह भवन तैयार हुआ है, व आगे भी सभी एक होकर सभा के विकास के लिए कार्य करें। गढवाल महासभा महिला मोर्चा की अध्यक्ष सुभाषिनी बर्त्वाल ने कहा कि महिला सभा लगातार विभिन्न कार्यक्रम कर महिलाओं को जोड़ने का कार्य कर रही है। तथा जितने भी पर्व आते है उसमें कार्यक्रम आयोजित किए जाते है। इस मौके पर भगवान सिंह धनाई ने कहा कि यह भवन गढवाल सभा का बन रहा है जिसमें सबकी सहभागिता है और आगामी समय में इसका लाभ यहां के लोगों को ही मिलेगा। उन्होंने इस  बात पर भी जोर दिया कि जहां भवन है वहीं इसको रहना चाहिए। क्यों कि इससे हम सबकी भावनाएं जुड़ी हैं। इस मौके पर अध्यक्ष राजेंद्र रौथाण ने सभी का आभार व्यक्त किया व कहा कि जिस उम्मीद के साथ सभी ने मिलकर सहयोग किया आगे भी इसी प्रकार सहयोग करते रहेंगे। कार्यक्रम में पवन थलवाल ने कहा कि जहां पर भवन बना है वहीं पर बनाया जाना चाहिए, अगर यहां रोपवे आ रही है तो भी इस स्थान को बचाया जाने के लिए संघर्ष करना चाहिए। कार्यक्रम का संचालन भगवती प्रसाद सकलानी ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here