Home अभी-अभी एक घंटे मौन धारण कर प्राश्चित करने को बैठेंगे- हरीश रावत

एक घंटे मौन धारण कर प्राश्चित करने को बैठेंगे- हरीश रावत

276
0
SHARE

कपिल मलिक

मसूरी : प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने जौनपुर कि बसांण गांव श्रीकोट में हुए दलित की हत्या पर उनके गांव जाकर परिजनों से मुलाकात की व कहा कि वह कल(आज) प्रातः 10 बजे से 11 बजे तक गांधी पार्क में महात्मा गांधी की प्रतिमा के नीचे एक घंटे मौन धारण कर प्राश्चित करने को बैठेंगे।

बसांण गांव से लौटते हुए मसूरी में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि जितेंद्र का परिवार बहुत गरीब है व उसके घर में कोई कमाने वाला नहीं है। घर में विधवा मां, बड़ी बहन व छोटा भाई है जो पढ़ता है। उनके परिवार को मदद की आवश्यकता है। पुलिस ने आरोपियों को पकड़ लिया है व जांच चल रही है। कानून के तहत जो मुआवजा मिलना चाहिए था मिल चुका है। दूसरा भी मिल जायेगा वहीं कहा कि उन्होंने समाज कल्याण अधिकारी से बात की व कहा कि मृतक के छोटे भाई को छात्रवृत्ति दी जाय व उनकी विधवा माता को पेंशन दी जाय। वहीं समाज कल्याण से जो 75 हजार की राहत मिलती है वह दी जाय। वहीं सरकार व प्रशासन उनकी और मदद भी कर सकता है। मुख्यमंत्री को इसमें पहल करनी चाहिए व अपने विवेकाधीन कोष से राहत देने की मांग की है। उन्होंने कहा कि अन्य लोग भी मदद कर रहे हैं आज भी हमारे साथ गये एक साथी ने पचास हजार की मदद की है। अच्छी बात यह है कि गांव व आसपास के गांवों के लोग भी परिवार की दुःख की घड़ी में उनके साथ हैं व प्रायश्चित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे में जो सदभाव का वातावरण टूटा है पारस्पिरिक सदभाव को जो आघात लगा है उसमें मरहम का काम करेगा।यह घटना कलुषित मानसिकता का प्रतीक है उसने पीड़ा पहुंचाई है। 21वीं सदी में जब चांद व मंगल पर जाने की बात करते हैं विज्ञान बहुत आगे बढ गया है उसके ऐसी घृणित मानसिकता सबके लिए चिंतनीय है। उन्होंने सभी समाज से आग्रह किया कि ऐसे में आगे आकर ऐसी मानसिकता के खिलाफ खडे़ हों ताकि इस तरह की विद्वेष की भावना उत्तराखंड की अंतिम घटना हो। उन्होंने सरकारी मदद पर कहा कि इसमें आचार संहिता नहीं होनी चाहिए यह मानवता का सवाल है। वहीं उन्होंने जिलाधिकारी टिहरी से बात की व उनकी बड़ी बहन को रोजगार देने को कहा ताकि उसका परिवार चल सके। उन्होंने इस बात पर भी चिंता व्यक्त की कि आज देश में अष्हिषुणता बढ़ रही है। तथा हम गुस्सैल देश बन रहे हैं। किसी की भी भाषा पर संयम नहीं है अगर गुस्सैल होना है तो पिछडे़ पन कि खिलाफ गुस्सा करें, अन्य समस्याओं के खिलाफ गुस्सा करें और आज यह बात देश में शीर्ष से हो रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इन दिनों इसी भूमिका में हैं।उन्होंने यह भी कहा कि इस आम चुनाव में भाजपा हार रही है और यूपीए की सरकार बन रही है जिससे भाजपा बौखला गई है। इस मौके पर पूर्व विधायक जोत सिंह गुनसोला, पूर्व पालिकाध्यक्ष मनमोहन सिंह मल्ल, शहर कांग्रेस अध्यक्ष सतीश ढौडियाल, मेघ सिंह कंडारी, संदीप साहनी, गौरव गुप्ता, सभासद दर्शन रावत, नंद लाल आदि भी मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here