Home अभी-अभी उत्कृष्ट कार्य करने वाले काश्तकार एवं गणमान्य व्यक्तियों को सीएम ने किया...

उत्कृष्ट कार्य करने वाले काश्तकार एवं गणमान्य व्यक्तियों को सीएम ने किया सम्मानित

62
0

संवाद सूत्र पौड़ी

पौड़ी गढ़वाल : प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बतौर मुख्य अतिथि के रूप में तहसील सतपुली के तोली ग्राम में पॉलीटैक्नि कालेज का दीप प्रज्ज्वलन कर विधिवत लोकार्पण किया। उन्होंने कार्यालय कक्ष एवं बच्चों के लिए मौजूद तकनीकी यंत्र, पुस्तकालय एवं कक्षा कक्ष का निरीक्षण किया। आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने पेयजल गुजरखंड पंपिंग योजना,  सतपुली-दुधारखाल मोटर मार्ग के स्थान ओड्या से गुलाणी ताड़केश्वर मोटर मार्ग, सतपुली-दिल्ली रोडवेज का शुभारंभ, दुधारखाल में पुलिस चैकी, सतपुली-दुधारखाल मोटर मार्ग-वीरभड़ लोदी रिखोला के नाम पर करने की घोषणा की। जबकि देवप्रयाग-सतपुली-द्वीरीखाल मोटर मार्ग को भारत सरकार को भेजने का आश्वासन दिया।

आयोजित कार्यक्रम में सभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि क्वालिटी के साथ कोई समझौता नहीं होगा, कहा कि अध्यापकों की नियुक्ति सिफारिशों से नहीं होनी चाहिए। कहा कि बच्चों के भविष्य के लिए किसी भी प्रकार की सिफारिश नहीं चलेगा। राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीयस्तर पर अच्छा प्रदर्शन करने हेतु बच्चों को अच्छी शिक्षा के वातावरण को बढ़ावा दिया जाएगा। कहा कि हम लोग अच्छी शिक्षा एवं कठिन परिश्रम के लिए जाने जाते हैं। गुणवत्ता के साथ समझौता नहीं होना चाहिए। प्रदेश के मुख्यमंत्री होने के नाते कोशिश रहेगा कि सिफारिशी दौर समाप्त हों। सिफारिश से अच्छे बच्चे रह जाते हैं। कहा कि अपनी मेहनत एवं सेवा का स्वभाव बना रहना चाहिए। बड़े पद पर भी सादगी बनी रहनी चाहिए, ये हमारी एवं उत्तराखंड की पहचान बननी चाहिए। हमारे राज्य में प्राकृतिक संसाधन बहुत हैं लेकिन एनजीटी की वजह से सड़कों को कई वर्ष मंजूरी के लिए लगते थे फिर भी मंजूरी नहीं मिलती थी। उन्होंने प्रधानमंत्री जी का धन्यवाद कर कहा कि आज बहुत जल्दी स्वीकृति मिल रही है। अब बहुत तेजी से कार्य हो रहे हैं। प्रधानमंत्री ने नियमावली को बहुत सरलीकरण किया है। राज्य सरकार ने राज्य के हित को कई महत्वपूर्ण फैसले लिये हैं। एक बहुत बड़ा आयोजन उत्तराखंड के 18 वर्ष के इतिहास में निवेशक सम्मेलन किया गया है। प्रधानमंत्री ने सम्मेलन को लेकर पूछा कि कितने निवेश आने की सम्भावना है तो मेरे द्वारा बताया गया कि 20 से 40 हजार करोड़ का अनुमानित इनवेस्टमेंट हो जाएगा। जबकि आयोजित डस्टिनेशन उत्तराखंड निवेशक सम्मेलन में एक लाख 25 हजार करोड़ निवेश कर चुका है।

राज्य के विकास हेतु काम करने में आ रही कठिनाइयों को दूर करने के लिए एक माह में पांच कैबिनेट बैठक में 11 बड़े नीतिगत फैसले लिए हैं। जिनमें पर्यटन, उद्योग, सोलर ऊर्जा, ऐडवेंचर, चिकित्सा औषधीकरण सहित अन्य क्षेत्र में राज्य के विकास में उद्योग अपनी अहम भूमिका स्थापित कर सकें। आज भी इन्वेस्टर आ रहे हैं। आज ही छह सौ करोड़ का निवेशक के एमओयू हस्ताक्षर किया है। हमारे पास 12 माह बहने वाली नदी है, हिम से ढके पर्वत श्रृंखला है। जिसको देखने के लिए दुनियाभर से लोग दौड़े चले आते हैं। लोग हिमालय को देखने के लिए तरस्ते हैं। हमारे राज्य में 14 तरह की जलवायु है। जिसमें विभिन्न प्रकार की वनस्पति, फूल आदि से आच्छादित हैं। औषधिपरक पौघे सहित तमाम वनस्पति हैं। जिसकी आज दुनिया में मांग है। उन्होंने कहा कि देश विदेश में भी राज्य के विद्यमान संसाधनों के बारे में जानकारी दिया जा रहा है। फिल्म उद्योग जगत का रूख प्रदेश की ओर तेजी से बढ़ रहा है। शोले फिल्म निर्माता ने वादा किया है कि सड़क-2 की शूटिंग उत्तराखंड में करेंगे। कहा कि निवेशकों को अनूकूल वातावरण देना एवं बच्चों को अच्छी शिक्षा देना राज्य सरकार प्राथमिकता है। पटेल बन्धु ने टिहरी सहित राज्य के अन्य स्थानों में 20 बड़े होटल बनाना चाहते हैं। उन्होंने बताया कि उत्तराखंड की खूबसूरती हमें यहां होटल खोलने के लिए खींच रहा है। फिल्म बत्ती गुल मीटर चालू फिल्म से ही उत्तराखंड की खूबसूरती को देखा है। वे होटल बनाने के लिए उत्सुक हैं जबकि उनके अमेरिका में 20 हजार से अधिक होटल हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पॉलीटैक्निक कॉलेज तोली में आवासीय भवन नहीं बनाने का निर्णय सबसे बेहतर निर्णय है। यहां पर आने वाले फैकल्टी एवं बच्चे को ग्रामीण क्षेत्रों में ही पेंईंग गेस्ट के रूप में निवास करने को मिलेगा। जिससे लोगों की आजीविका में संवर्द्धन होने के साथ-साथ बच्चों को अपनत्व को माहौल भी मिलेगा। राज्य सरकार ने होमस्टे के लिए छूट दिया है। कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों के बंजरभूमि में निवेशकों से समन्वय कर सोलर प्लांट लगायें। जिससे भूमि के उपयोग होने के साथ-साथ रोजगार को बढ़ावा मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि एक वर्ष के अन्दर गांव से जुड़े सड़कों तक ओएफसी लाइन पहुंचाई जाएगी। जिससे सभी क्षेत्र नेटवर्किंग कार्य से जुड़ जाएंगे। कहा कि मुकेश अम्बानी ने अस्पताल एवं शासकीय कार्यालय, स्कूलों में फ्री वाई-फाई लगाने का आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा कि भारत के बड़े अर्थशास्त्री झुनझुनवाला ने एक मुलाकात के दौरान बताया कि उत्तराखंड के लोग मेहनती एंव बुद्धिजीवी है। लेकिन व्यापारिक गुण नहीं हैं। उन्होंने कहा कि यहां के लोग मेहनती होने के साथ-साथ ईमानदार हैं। राज्य सरकार की प्राथमिकता है कि बेहतर शिक्षा, प्रशिक्षण आदि मुहैया कराकर राज्य के युवाओं को आत्मनिर्भर बनाया जाएगा।

इस अवसर पर पर्यटन मंत्री/काबीना मंत्री/क्षेत्रीय विधायक सतपाल महाराज ने कहा कि पर्यटकों को बढ़ावा देने के लिए राज्य में बेहतर से बेहतर सुविधा मुहैया कराने हेतु कार्य किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि देवालयों को सर्किट ट्रैक से जोड़ा जा रहा है। घोस्ट टू होस्ट को बढ़ावा दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि लैमनग्रास चाय पत्ती औषधी, मशरूम, स्थानीय खाद्य उत्पाद को बढ़ावा देने के साथ-साथ जैविक खेती की ओर अग्रसर है। उन्होंने कहा कि मोटर साइकिल रैली के माध्यम से रामनगर से कोटद्वार तक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए रैली निकाली जाएगी। साथ ही 52 गढ़ों को पर्यटन से जोड़ा जाएगा। भैरवगढ़ी एवं दिया के डांडा में रोपवे लगाने की बात कही। लैंसडोन विधायक दिलीप रावत ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए क्षेत्र के विकास के लिए मुख्यमंत्री एवं पर्यटन मंत्री से ठोस योजना बनाने की बात कही। उन्होंने लैंसडोन क्षेत्र में पर्यटन की अपार सम्भावनाओं से मुख्यमंत्री को अवगत कराया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने उत्कृष्ट कार्य करने वाले काश्तकार एवं गणमान्य व्यक्तियों को सम्मानित किया। इस अवसर पर हिमालयन विश्वविद्यालय के कुलपति डा0 विजय धस्माना, डा0 विजेंद्र चैहान, डा0 महेंद्र सिंह कुंवर, जिलाधिकारी सुशील कुमार, एसएसपी जेआर जोशी, एसईलोनिवि ओम प्रकाश, उप जिलाधिकारी एसएस राणा एवं केएस नेगी सहित अन्य गणमान्य आम जनमानस उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here