Home अभी-अभी आरएसएस के स्वयं सेवकों ने पथ संचलन किया, रास्ते में फूलों की...

आरएसएस के स्वयं सेवकों ने पथ संचलन किया, रास्ते में फूलों की वर्षा की गई।

227
0
SHARE

कपिल मलिक

मसूरी : राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ मसूरी शाखा ने नव वर्ष पर पथ संचलन किया। इस मौके पर कहा गया कि भारतीय संस्कृति विश्व की प्राचीन संस्कृतियों में है जिसको धार्मिम मान्यताओं के अनुसार मनाया जाता है। लेकिन दुर्भाग्य है कि आज सभी पाश्चात्य संस्कृति की ओर भाग रहे हैं और अपने संस्कार भूल रहे हैं।

आरएसएस ने पुराने टिहरी बस स्टैण्ड पर एकत्र होकर गणवेश के साथ पथ संचलन किया। जो मलिंगार, गुरूद्वारा चैक, लंढौर चैक, लंढौर बाजार, घंटाघर, कुलड़ी बाजार, मालरोड होते हुए गांधी चैक तक गया। बैंड के साथ बड़ी संख्या में आरएसएस कार्यकर्ता गणवेश के साथ ही हाथों में दंण्ड के साथ चल रहे थे। पथ संचलन का भाजपा महिला मोर्चा ने कुलड़ी व गांधी चैक पर पुष्प वर्षा कर स्वागत किया। जिसमें महिला मोर्चा की अध्यक्ष मीरा सुरियाल, महामंत्री कमला थपलियाल, कमल शर्मा, अनीता सक्सेना,  मंत्री अनीता धनाई, माया बुटोला आदि थे। गांधी चैक पहुंचने पर पथ संचलन की समाप्ति पर आयोजित कार्यक्रम में प्रांतीय गतिविधि एवं सामाजिक समरसता प्रमुख राजेंद्र पंत ने सभी स्वयं सेवकों को नव वर्ष प्रतिपदा की बधाई दी। व कहा कि आज सभी पाश्चात्य संस्कृति की ओर आकर्षित हो रहे हैं। जब कि नये वर्ष पर 31 दिसंबर को हुड़दंगिंयों से बचने के लिए पुलिस लगानी पड़ती है और हिंदू विरासत का नया वर्ष पारंपरिक तरीके से धर्मानुसार मनाया जाता है इस दिन महिलाएं व्रत रखती हैं व मंदिरों में जाकर सभी देवताओं के दर्शन कर सभी सुखी हों, सभी समृद्ध हों, किसी को कोई कष्ट न हो, सभी निरोगी रहें आदि की कामना की जाती है। जबकि पाश्चात्य संस्कृति ब्रिगेडियन कलेंडर के अनुसार चलती है। पहले इसमें दस माह होते थे और बाद में बढ़ा कर 12 मास किए गये। इसमें जुलाई व अगस्त बाद में जुड़ा। जबकि हमारा कलेंडर विशुद्ध विज्ञान पर आधारित हैं ग्रहो के रोटेशन पर निर्धारित हैं।जबकि हमें यह अपनी आने वाली पीढ़ी को बताया चाहिए। वरना जिस तरह समाज का क्षरण हो रहा है वह होता रहेगा। हमें संकल्प लेना चाहिए कि हम अपनी सांस्कृतिक विरासत को आगे बढाने का काम करेंगे।

इस मौके पर कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे स्वयंसेवक जगबीर भंडारी ने सभी को नववर्ष की शुभकामनाएं दी। कार्यक्रम का संचालन सह संघ कार्यवाह अंकुश नौटियाल ने किया। इस मौके पर खंड कार्यवाह सत्य प्रकाश जोशी, मोहन पेटवाल, कुशाल राणा, कुलदीप जदवाण, रमेश जायसवाल, सहित बड़ी संख्या में स्वयं सेवक मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here