Home अभी-अभी आठवां हेरिटेज टूरिज्म सम्मेलन पर्यटन की दिशा में मील का पत्थर साबित...

आठवां हेरिटेज टूरिज्म सम्मेलन पर्यटन की दिशा में मील का पत्थर साबित होगा।

105
0
SHARE

कपिल मलिक

मसूरीं : आठवें हेरिटेज टूरिज्म कॉकलेव में हेरिेटेज पर्यटन को बढ़ाने की अपार संभावनाओं पर देशभर से आये पर्यटन व्यवसायियों ने जहां अनेक सुझाव रखे वहीं मॉरीशस, ताइवान, पेरूगुवे, बुल्गारिया, मलेशिया आदि देशों के राजदूतों ने प्रोजेक्टर के माध्यम से अपने देश के हेरिटेज पर्यटन को दिखाया व आने का आमंत्रण दिया।

मसूरी के हेरिटेज होटल, वैलकम होटल द सवाय में आयोजित आठवें हेरिटेज टूरिज्व कॉकलेव का शुभारंभ बतौर मुख्य अतिथि लाल बहादुर शास्त्री प्रशासनिक अकादमी के निदेशक डा.संजीव चोपड़ा ने दीप प्रज्वलित व रीबन काटकर किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि पर्यटन में अपार संभावनाए है मै पहले जिलाधिकारी रहा हू तथा इस दिशा में कार्य किया है। उन्होंने कहा  की वह कृषि सचिव भी रहे है लेकिन उस दिशा में कोई खास नहीं है। उन्होंने कहा कि यह आयोजन देश के हेरिटेज पर्यटन में मील का पत्थर साबित होगा क्यों कि यहां विभिन्न देशों के राजदूतों ने अपने देश के हेरिटेज पर्यटन के बारे में बताया है इससे निश्चित की हेरिटेज पर्यटन को आगे बढाने में मदद मिलेगी इस मौके पर उन्होंने विदेशों से आये राजदूतों का विशेष आभार व्यक्त किया।

कार्यक्रम में होटल सवाय के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई कि यह संपत्ति दो सौ साल पुरानी है तथा विश्व के सबसे पुराने होटलों में है यहाँ पर ततकलीन समय में देश विदेश के अनेक बडी सेलिब्रिटियों ने आकर प्रकृति का आनंद लिया व यहां की खूबसूरती को निहारां। कहा गया कि इस होटल में यह सेमिनार हो रहा है जिससे गर्व है। कार्यक्रम की चेयरपर्सन राधा भाटिया ने सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि भारत विभिन्न्न संस्कृतियों का देश है, तथा भी तक अपनी सांस्कृतिक विरासत को संजो कर रखा गया है। उन्होंने कहा कि भारत में अनेकों धरोहरे है लेकिन उनका प्रचार प्रसार नहीं हो पाया है। यहां हेरिटेज पर्यटन की अपार संभावनाएं है। भारत में विश्व से बड़ी संख्या में हेरिटेज प्र्यटन व ऐतिहासिक स्थलों को देखने पर्यटक आते हैं और इससे रोजगार का भी बड़ा अवसर मिलता है। वहीं देश की आर्थिकी में महत्व रखता है। एक ओर जहां यहां अनेक महल है जो विश्व में अनुठे हैं वहीं यहां का खान पान, पहनावा, बोली भाषा भी हेरिटेज पर्यटन के क्षेत्र में अहम योगदान रखती है। इस मौके पर कार्यक्रम में उत्तराखंड चेप्टर के चेयरमैन एसपी कोचर ने सभी का स्वागत करते हुए कहा कि भारत में अनेक हेरिटेज में महत्व रखने वाले स्थान हैं जिनको आगे बढाया जा सकता है। होटल वैलकम सवाय के ओनर किशोर काया ने होटल मे आये सम्मेलन दिल्ली में आयोजित किया गया था। कार्यक्रम में बुल्गारिया, मलेशिया, पेरूगुवे, मारीशस, ताइवान, आदि देश के राजदूतों ने अपने देश के हेरिटेज पर्यटन पर विस्तार से प्रकाश डाला। कार्यक्रम में ख्यातिप्राप्त लेखक पदमभूषण रस्किन बोंड, बिल एटकिन, ब्रदर कैरल व राजा दीन प्रताप सिंह को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के अंत में सम्मेलन की रिपोर्ट का लोकार्पण किया गया। अंत में प्रिसिंपल डायरेक्टर पीएचडीसीसीआई ने सभी का आभार व्यक्त किया। इस मौके पर देश भर से होटल, ट्रेवल आदि के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here