Home अभी-अभी कुछ इस तरह हुआ कार्निवाल का समापन l

कुछ इस तरह हुआ कार्निवाल का समापन l

152
0
SHARE

कपिल मलिक

मसूरी : विंटर लाइन कार्निवाल के आखिरी दिन झूला घर स्थित शहीद स्थल पर संस्कृति विभाग की टीम द्वारा एक से बढ़कर एक सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति पेश की गई जिसे देखकर बाहर से आए पर्यटक काफी उत्साहित हो गए व पंडाल में पहुंचकर जमकर नृत्य किया। वहीं इस मौके पर अनिल गोदियाल के नेतृत्व में नंदादेवी राजजात का शानदार मंचन किया गया जिसे देखकर पर्यटक व स्थानीय निवासी भावुक हो उठे व उसके बाद यात्रा पारंपरिक वाद्ययंत्रों के साथ मालरोड होते हुए गांधी चैक कार्यक्रम समापन स्थल पर गई।

शहीद स्थल पर नंदादेवी राजजात यात्रा में हेमंत बुटोला के निर्देशन में आई टीम ने मोहक प्रस्तुति दी। वहीं इस मौके पर लोक गायक हेमंत बुटोला व शालिनी सुंदरियाल, द्वारा एक से बढ़कर एक गढ़वाली गीतों की प्रस्तुति पेश की गई जिसे देख कर दर्शक मंत्रमुग्ध हो गए और जमकर झूम उठे सवही साथ में आए कलाकारों द्वारा एक से बढ़कर एक नृत्य पेश किया गया जिसकी पर्यटकों ने जमकर सराहना की इसमें सुषमा व्यास,माधुरी भंडारी,रजनी, दुर्गासागर,आदि ने मनमोहक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। वही गढ़वाल टैरेस पर लगे स्टेज पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ ही अन्य प्रतियोगिताओं का आयोजन किया  गया साथ ही शहर में लगे अन्य मंचों पर दिनभर सांस्कृतिक कार्यक्रमों की धूम रही इस मौके पर पंजाब से आए पर्यटक दलबीर सिंह ने बताया कि उन्होंने केवल नंदा राज जात के बारे में सुना ही था  लेकिन आज यहां आकर  आंखों से नंदा राजजात का मंचन देखा ,जिसकी जितनी भी सराहना की जाए वह भी कम है। इससे पूर्व शहीद स्थल पर सरस्वती शिशु विद्या मंदिर के छात्र छात्राओं ने लोकनृत्य व डांडिया की मोहक प्रस्तुति देकर दर्शकों का दिल जीता। कार्यक्रम के अंत में शहीद स्थल ने गांधी चैक तक नंदादेवी राजजात यात्रा

परंपरिक वाद्ययंत्रों के साथ निकाली गई जो गांधी चैक तक गई जहां प्रदेश के विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने यात्रा का स्वागत किया। वहीं कार्निवाल में सहयोग करने वालों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here