Home अभी-अभी नही रहे महाराजा को परास्त करने वाले सांसद पैन्यूली

नही रहे महाराजा को परास्त करने वाले सांसद पैन्यूली

19
0
SHARE

जय प्रकाश बहुगुणा

बड़कोट : टिहरी गढ़वाल के पूर्व सांसद व स्वतन्त्रता संग्राम सेनानी परिपूर्णा नन्द पैन्यूली आज चिर निंद्रा में लीन हो गए।1971 में टिहरी रियासत के पूर्व महाराजा मानवेन्द्र शाह को हराकर इतिहास लिखने वाले पूर्व सांसद और स्वतंत्रता संग्राम सेनानी प्रजामण्डल के प्रथम अध्य्क्ष रहे परिपूर्णानंद पैन्यूली का लंबी बीमारी के बाद आज देहरादून के ओएनजीसी अस्पताल में इलाज के दौरान निधन हो गया। वह 96 साल की उम्र में गंभीर बीमारी से जूझ रहे थे। उनकी चार बेटियां हैं। वर्तमान में वह देहरादून के बसन्त विहार के अपने निवास पर रहते थे। कल शुक्रवार रात तबियत बिगड़ने पर उनकी देखरेख कर रहे युवक ने उनको अस्पताल में भर्ती कराया। जहाँ आज शनिवार दोपहर को उनका निधन हो गया। उनकी 4 बेटियाँ है,दिल्ली से उनकी बेटी विजय दून पहुँच गए हैं। इसके अलावा अन्य रिस्तेदार भी जुटने लगे हैं। पैन्यूली का पार्थिव शरीर अभी अस्पताल में है। परिजनों ने बताया कि राविवार को उनका अंतिम संस्कार होगा। आजादी के आंदोलन और टिहरी रियासत को आजाद भारत में विलय कराने में उनकी अहम भूमिका रही।उनका निधन समाज के लिए एक बड़ी क्षति है,ऐसे महान योद्धा,ईमानदार राजनेता का जाना बेहद दुःखद,ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे।यहाँ रवाई के बुद्धिजीवी वर्ग व राजनीतिक दलों के लोगो ने पूर्व सांसद के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here